जानें क्या हैं नए नियम भारतीय रेलवे के टिकट रिजर्वेशन में

2
0
जानें क्या हैं नए नियम भारतीय रेलवे के टिकट रिजर्वेशन में

रेलवे ने स्टेशन से ट्रेन के निर्धारित डिपार्चर समय से 30 मिनट पहले दूसरा रिजर्वेशन चार्ट तैयार करने का फैसला लिया है। पिछले कुछ महीनों से कोरोना वायरस महामारी के चलते इसमें दो घंटे पहले ही बदलाव किया जाता था।

भारतीय रेलवे ने एक बयान में कहा, ‘कोरोना काल से पूर्व स्थापित निर्देशों के अनुसार, पहला रिजर्वेशन चार्ट ट्रेन के निर्धारित डिपार्चर समय से कम से कम चार घंटे पहले तैयार किया जाता था। इसके बाद पीआरएस (PRS) सिस्टम या इंटरनेट के जरिए उपलब्ध बुकिंग पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर होती थी। यह बुकिंग दूसरा रिजर्वेशन चार्ट बनने से पहले तक होती थी।

दूसरे रिजर्वेशन चार्ट्स ट्रेन के निर्धारित या पुनर्निर्धारित डिपार्चर समय से 30 से पांच मिनट पहले तक तैयार होते थे। पहले से बुक टिकटों का कैंसिलेशन भी रिफंड नियमों के प्रावधान के अनुसार इस अवधि के दौरान मान्य होता था।

कोरोना वायरस महामारी के चलते, दूसरे रिजर्वेशन चार्ट के नियमों में बदलाव करते हुए ट्रेन के निर्धारित या पुनर्निर्धारित डिपार्चर समय से दो घंटे पहले दूसरा रिजर्वेशन चार्ट तैयार करने के निर्देश जारी हुए थे। अब दोबारा से नियम में बदलाव हुआ है, जिससे दूसरा रिजर्वेशन चार्ट ट्रेन छूटने के समय से 30 मिनट पहले तैयार होगा।

इस तरह अब ऑनलाइन और पीआरएस पर टिकट बुकिंग सुविधा दूसरे चार्ट के तैयार होने से पहले तक उपलब्ध रहेगी। रेल सूचना प्रणाली केंद्र (CRIS) ने इस अनुसार सॉफ्टवेयर में आवश्यक बदलाव कर दिये हैं। इसका मतलब है कि शनिवार से यात्री स्टेशन से ट्रेन चलने से 30 मिनट पहले तक अपना टिकट बुक करा सकते हैं और जरूरत पड़ने पर दूसरा चार्ट तैयार होने से पहले बुक्ड टिकट कैंसिल भी करा सकते हैं।

2 टिप्पणी

  1. I have to show some thanks to you just for rescuing me from this type of condition. Just after surfing throughout the the web and coming across tricks that were not productive, I thought my entire life was gone. Existing without the approaches to the difficulties you have sorted out as a result of your good short article is a crucial case, and ones that might have in a negative way damaged my entire career if I hadn’t encountered your site. The training and kindness in dealing with a lot of stuff was valuable. I am not sure what I would have done if I hadn’t encountered such a subject like this. I am able to at this point relish my future. Thank you so much for your expert and results-oriented help. I won’t hesitate to propose your blog to any individual who needs tips about this topic.

  2. Thank you for another informative blog. The place else could I get that type of information written in such an ideal means? I’ve a challenge that I am just now running on, and I have been at the glance out for such information.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here