जाने,कब है सकट चौथ

0
1
जानें,आज है विघ्नहर्ता श्री गणेश जयंती

भगवान गणेश को समर्पित सकट चौथ इस वर्ष 31 जनवरी को पड़ रही है। यह तिथि हर वर्ष माघ मास की चतुर्थी को आती है। इस दिन संतान के लिए उपवास किया जाता है। मान्यता है कि इस दिन व्रत करने से संतान के सभी संकट दूर हो जाते हैं। साथ ही संतान को दीर्घायु का आशीर्वाद भी प्राप्त होता है। हिंदू पंचांग के अनुसार, हर माह संकष्टी चतुर्थी मनाई जाती है। लेकिन जो चतुर्थी तिथि माघ माह में आती है उसे सकट चौथ कहा जाता है और इसका महत्व बेहद विशेष होता है। इसे तिलकुट चौथ, संकटा चौथ, माघ चतुर्थी, संकष्टी चतुर्थी भी कहा जाता है। आइए जानते हैं सकट चौथ का शुभ मुहूर्त और महत्व।

सकट चौथ शुभ मुहूर्त:

सकट चौथ 31 जनवरी, रविवार

चन्द्रोदय का समय: रात 08 बजकर 40 मिनट पर

चतुर्थी तिथि प्रारम्भ: 31 जनवरी, रविवार रात 08 बजकर 24 मिनट से

चतुर्थी तिथि समाप्त: 1 फरवरी, सोमवार को शाम 06 बजकर 24 मिनट तक

सकट चौथ का महत्व:

सकट चौथ का महत्व बेहद विशेष है। इस दिन महिलाएं अपनी संतान की लंबी आयु की कामना के लिए व्रत करती हैं। साथ ही इस व्रत को करने से परिवार कल्याण की भी हर कामना पूरी हो जाती है। इस दिन महिलाएं निर्जला उपवास करती हैं। उनकी अराधना से प्रसन्न होकर भगवान उन्हें संतान व परिवार की दीर्घायु का आशीर्वाद देते हैं। इस दिन गणेश जी की पूरे विधि-विधान के साथ पूजा की जाती है और फिर शाम के समय चंद्रमा को अर्घ्य देकर व्रत पूरा किया जाता है।