तेलंगाना में अवैध एप के जरिए तुरंत लोन देकर लोगों से जबरन वसूली करने के आरोप में चीनी नागरिक समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया है।

0
5

तेलंगाना में अवैध एप के जरिए तुरंत लोन देकर लोगों से जबरन वसूली करने के आरोप में चीन नागरिक
समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि चारों लोगों पर एक अवैध एप के जरिए लोगों को
कर्ज देने और जबरन वसूली के आरोप  में गिरफ्तार किया है। फिलहाल अभी एक चीनी नगारिक और दो
अन्य लोग फरार है, जिनकी तालश जारी है।

रिपोर्ट के मुताबिक, एक कॉल सेंटर पर छापे के दौरान चारों लोगों को गिरफ्तार किया गया है। यहां पर
लोगों कर्ज दिने कार्य किया जाता था। लोन के बाद जबरन वसूली के लिए इसकी कार्यालय का इस्तेमाल
किया गया था। पुलिस के मुताबिक, आरोपियों ने तुरंत कर्ज मुहैया कराने वाले 11 एप बनाए थे। रिपोर्ट
के मुताबिक, इस एप का हैड ऑफिस राजधानी दिल्ली में है।  इस एप के जरिए लोगों को कर्ज दिया
जाता था, और जब लोग कर्ज नहीं चुका पाते थे तो वह भारी जुर्मानान लगाते थे। यही नहीं  इन कॉल
सेंटरों के जरिए कर्जदारों के साथ अभ्रद भाषा का भी इस्तेमाल किया जाता था।

पुलिस के मुताबिक,आरोपित कर्जदारों के रिश्तेदारों और परिवार के सदस्यों को फर्जी कानूनी नोटिस
भेजकर उन्हें ब्लैकमेल करते थे। हाल ही में पुलिस ने ऐप के जरिये कर्ज देने वालों के खिलाफ 8 मामले
दर्ज किए थे। बताया रहा है कि इन एप्स के माध्यम से कर्ज देने के बाद जबरन वसूली के कारण हैदराबाद
में कई लोगों के आत्महत्या करने के मामले सामने आए थे, जिसके बाद पुलिस ने इस मामले को गंभीरता
से लिया और इस छानबीन शुरू की।