नौकरी की निश्‍शुल्क कोचिंग कराएगा सेवायोजना विभाग

0
1
नौकरी की निश्‍शुल्क कोचिंग कराएगा सेवायोजना विभाग

अनुसूचित जाति और पिछड़े वर्ग के ऐसे विद्यार्थी हैं, जो आर्थिक तंगी की वजह से प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी नहीं कर

पाते, ऐसे लोगों को सेवायोजन विभाग निश्शुल्क कोचिंग कराएगा।

तीन अनुदेशकों की तैनाती: कोचिंग में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए तीन अनुदेशक (शिक्षक) तैनात हैं।

सचिवालीय पद्धति पढ़ाने के लिए सूरज प्रकाश तैनात हैं तो विनोद वर्मा को भाषा का ज्ञान कराने के लिए रखा गया है।

कुसुम वर्मा शॉर्ट हैंड और टाइपिंग सिखाएंगी।

ऐसे होगा प्रवेश: आर्थिक रूप से कमजोर इंटर पास 18 से 35 वर्ष तक के युवाओं का लोवर डिविजनल क्लर्क के पदों

पर तैनाती के लिए प्रवेश होगा। 60 सीटों वाली इस कोचिंग में 35 बच्चे अनुसूचित जाति और शेष पिछड़े वर्ग के होंगे।

कोरोना संक्रमण के चलते इस बार प्रवेश नहीं हो सके हैं। अब अप्रैल से शुरू होने वाले नए सत्र के लिए प्रवेश की प्रक्रिया

अगले महीने से शुरू होगी। अनुसूचित जाति के युवाओं को 200 रुपये महीना वजीफा भी समाज कल्याण विभाग देगा।

एक छात्र को एक बार में 200 रुपये स्टेशनरी खरीदने के लिए अलग से दिए जाते हैं।

अब ऑफलाइन काउंसिलिंग: सेवायोजन विभाग की ओर से ऑनलाइन के बजाय अब ऑफलाइन काउंसिलिंग शुरू हो

गई है। जिला सेवायोजन अधिकारी प्रीति चंद्रा ने बताया कि सभी इंटर कॉलेज व पॉलीटेक्निक में काउंसिलिंग चल रही है।

नौकरी के साथ ही पंजीयन की जानकारी भी युवाओं को दी जा रही है।

अगले महीने से प्रवेश प्रक्रिया शुरू: लालबाग स्‍थित क्षेत्रीय सेवायोजन कार्यालय की सहायक निदेशक सुधा पांडेय के

मुताबिक, कोचिंग का संचालन सुचारू रूप से करने के लिए अनुदेशकों की तैनाती की गई है। कोचिंग में युवाओं के प्रवेश

के लिए सूचना दी जाएगी। अगले महीने से प्रवेश प्रक्रिया शुरू होने की संभावना है। मेरिट व प्रवेश परीक्षा के आधार पर

प्रवेश होंगे।