‘मैंने ‘रामलीला’ के लिए दो हिट गाने दिए फिर भी लोगों ने मुझे काम नहीं दिया’

0
2
‘मैंने 'रामलीला' के लिए दो हिट गाने दिए फिर भी लोगों ने मुझे काम नहीं दिया'

इन दिनों फिल्म इंडस्ट्री में नोपेटिज़्म का मुद्दा छाया हुआ है। लोग स्टार किड्स को काफी टारगेट कर रहे हैं। नोपिटिज़्म और इनसाइडर/आउटसाइडर के बीच इस बहस में अब तक कई सेलेब्स के बयान आ चुके हैं। कुछ सेलेब्स ने इन बातों को गलत बताया है, तो कुछ ने इसे झेलने का अपना दर्द बयां किया है। इन सारी ट्रोलबाज़ी में सबसे ज्यादा टारगेट किए जा रहे हैं स्टार किड्स।

ट्रोलर्स का कहना है कि स्टार किड्स की वजह से आउटसाइडर को उतनी तवज्जो नहीं दी जाती उन्हें काम नहीं मिलता। अब बॉलीवुड के दिग्गज सिंगर उदित नारायण के बेटे आदित्य नारायण ने इस मामले में कुछ कहा है। बॉलीवुड लाइफ से बात करते हुए आदित्य ने कहा, ‘रामलीला में दो हिट गाने देने के बाद भी 6 सालों तक मुझे किसी ने काम नहीं दिया। मुझे 25 साल बाद काम मिलना शुरू हुआ’।

‘पिछले साल, एआर रहमान ने मुझे 20 साल बाद रिकॉर्डिंग के लिए बुलाया था। इस साल मैंने विशाल-शेखर के लिए एक गाना गाया। जब्कि मैं उन्हें तब से जानता हूं जब मैं 18 साल का था। मैं सिंगिंग रिएलिटी शो ‘सा रे गा मा पा’ होस्ट करता था और वो उस शो के जज थे। इसके बावजूद उन्होंने मुझे काम नहीं दिया था। एक बड़े म्यूज़िक लेबल में साइन होने के बावजूद मेरी ऑरिजनल आवाज़ को अप्रूव नहीं जाता था। जब मैं कोई गाना रिकॉर्ड करता वो उसे अपने आर्टिस्ट से डब करवा देते थे और वो गाना हिट हो जाते’।

मुझे ख़ुद पर ही शक होने लगा कि मैं अच्छा गा भी सकता हूं या ये सिर्फ मेरा ख़्याल है? अपनी क्षमताओं, क़ाबिलियत और काम को लेकर ख़ुद से सवाल करने लगा। हालांकि मैं टीवी इंडस्ट्री में काफी फेमस हो गया,
लेकिन जब भी बात म्यूज़िक इंडस्ट्री की आती है तो मुझे अब भी लगता है
कि मेरे लिए सफर बहुत लंबा है’।

आगे आदित्य ने कहा, ‘शुरुआत में मैंने टीवी में काम सिर्फ एक अलग एक्सपीरियंस लेने की वजह से किया।
इसके बाद जब मैंने रामलीला के लिए गाने गाने के बाद 6 महीने तक काम नहीं
किया तब मुझे एहसास हुआ
कि टैलेंट आपकी ईएमआई नहीं देगा, ईएमआई पैसे से जाएंगी। क्योंकि तब तक मैं
एक घर खरीद चुका था,
अपने लिए कार ख़रीद चुका था और मुझे उनकी इएमआई देनी थीं।
इसके बाद मुझे जब
भी टीवी से होस्टिंग के ऑफर मिले तो मैंने एक्सेप्ट कर लिए। इन्होंने
मुझे पॉपुलैरिटी भी दी और पैसा भी’।