शुगर से लेकर पेट की समस्याओं का भी उपचार करती है मिठी तुलसी

0
1
शुगर से लेकर पेट की समस्याओं का भी उपचार करती है मिठी तुलसी

औषधीय गुणों से भरपूर तुलसी हर घर में मौजूद रहती है। तुलसी की ना सिर्फ पूजा की जाती है बल्कि इसका इस्तेमाल औषधियों के निर्माण में भी किया जाता है। कोरोनाकाल में तुलसी ने लोगों की बेहद हिफाजत की है। इस तुलसी का नाम स्टीविया है, ये स्वाद में जितनी मिठी है उतनी ही सेहत के लिए भी उपयोगी है। मीठी तुलसी बहुत महंगी आती है और इसका सेवन कई गंभीर बीमारियों में किया जाता है। मिठी तुलसी से न सिर्फ डायबिटीज के रोगियों को फायदा पहुंचता है बल्कि सभी उम्र के लोगों, बच्चों और प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए भी ये फायदेमंद है।

शुगर के मरीजों के लिए फायदेमंद

इस तुलसी का इस्तेमाल सालों से स्वीटनर के रूप में किया जा रहा है। ये मिठी होने के बावजूद शुगर के मरीजों के लिए

उपयोगी है। इसके सेवन से शुगर के मरीजों की शुगर कंट्रोल रहती है। स्टीविया का प्रभाव ब्लड में मौजूद ग्लूकोज पर ना

के बराबर होता है।

इम्यूनिटी बढ़ाता है

हेल्थ एक्सपर्ट का यह भी मानना है कि मीठी तुलसी में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुणों के कारण शरीर की इम्यूनिटी बढ़ती

है। स्टीविया में फलेवोनोइड्स, टैनिन, ट्राइटरपेन्स, कैफीनोल, कैफिक एसिड और क्वेरसेटिन जैसे कई एंटी−ऑक्सीडेंट्स

पाए जाते हैं, जो हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता पर सकारात्मक प्रभाव डालते हैं।

वज़न कम करती है ये तुलसी

अगर आप बढ़ते वजन से परेशान है और नेचुरली वजन कम करना चाहते हैं तो इस तुलसी को अपनी डाइट में शामिल

करें। ये नेचुरल स्वीटनर है, जिसे प्रोसेस्ड नहीं किया जाता। रिसर्च के मुताबिक स्टीविया में मिठास चीनी से कहीं ज्यादा

होती है, लेकिन इसमें कैलोरी की मात्रा बहुत ही कम होती है।

स्किन के लिए फायदेमंद है

स्टीविया स्किन की समस्याओं से बचाव के लिए भी उपयोगी है। स्टीविया में एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं, जो एक्जिमा

और डर्मेटाइटिस जैसी समस्याओं को कम करने में मददगार माने जाते हैं।