सेकेंड हैंड कार को खरीदनें में हो रही है परेशानी, तो अपनाएं ये आसान टिप्स

0
1
सेकेंड हैंड कार को खरीदनें में हो रही है परेशानी, तो अपनाएं ये आसान टिप्स

1.अगर आप सेकेंड हैंड कार लेने का विचार कर रहे हैं, तो सबसे पहले आपको कुछ सामान्य बातों का ध्यान रखना

चाहिए। जैसे सबसे पहले यह जान लें कि आप जिस व्यक्ति से कार ले रहे हैं, वह उसे क्यों सेल करना चाहता है। इसके

बाद कार को सिर्फ देखने भर में काम नहीं चलेगा। कार को एक लंबी राइड कम से कम 10 से 12 किमी तक चलाकर

देखें कि कहीं उसमें कोई दिक्कत तो नहीं है।

2.इन बातों को जाननें के बाद अपने निजी मैकेनिक के पास ले जाकर कार को चेक कराएं। कि उसके इंजन और अन्य

पार्टस सही से काम कर रहे हैं, या नहीं। सबसे अहम बात कार के इंश्योरेंस पेपर को देखना कभी ना भूलें इस बात का भी

ध्यान रखें कि इंश्योरेंस समय से रिन्यू कराया जा रहा है, या नहीं। वहीं जान लें कि कार मालिक ने कितनी बार क्लेम लिया

है।

3.जब आप कार की कंडीशन को पूरी तरह देख लें। तो मार्केट वेल्यू पर कार खरीदनें की कोशिश करे। कार को खरीदनें

के बाद आरटीओ में आप अपने नाम से ट्रांसफर करा लें। जिसके बाद आप अपनी सुविधानुसार बैंक में लोन के लिए

अप्लाई कर सकते हैं। बैंक में लोन के लिए अप्लाई करते समय आपको गाड़ी के पेपर जैसे ट्रैफिक एनओसी आदि को

दिखाना होगा। जिसके बाद आपको आपकी इनकम के आधार पर लोन मिल जाएगा।

4.वर्तमान में कई बैंक कार लोन को न्यूतक ब्याज दरों के साथ पेश कर रहे हैं, जिनमें सबसे कम ब्याज कैनरा बैंक का

7.30 प्रतिशत है, इसके बाद Bank of India और Punjab National Bank क्रमश:  7.45% और 8.30%  की

ब्याज दर पर कार लोन दे रहे हैं।