Amitabh Bachchan की नातिन इस वजह से खुद को करती हैं असुरक्षित महसूस..

0
0
Amitabh Bachchan की नातिन इस वजह से खुद को करती हैं असुरक्षित महसूस

बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन की नातिन नव्या नवेली नंदा उन स्टारकिड्स में से एक हैं जो सामाजिक मुद्दों में खुलकर बोलती हैं। फिल्मी परिवार से संबंध रखने के बावजूद नव्या नलेवी ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में खुद अपना रास्ता बनाया है। वह महिलाओं की समस्या के बारे में चर्चा करने वाले वेब पोर्टल आरा हेल्थ की सह संस्थापक है। इस बीच नव्य नवेली नंदा ने पेशे में पुरुष-प्रधानता को लेकर बात की। साथ ही कहा कि वह खुद को बहुत बार असुक्षित महसूस कर चुकी हैं। उन्होंने पुरुष-प्रधान उद्योग में पुरुषों द्वारा एक महिला के रूप में खुद को कमतर महसूस करवाने की भी बात की है।

नव्या नवेली नंदा ने हाल ही में महिलाओं की समस्या को लेकर इंस्टाग्राम पर लाइव चैट वीडियो के जरिए पेशेवर जगहों में पुरुष प्रधान समाज के बारे में बात की। उन्होंने काम करने की जगह पर पुरुषों द्वारा बेवकूफ समझे जाने को लेकर खुलकर बात रखी। उन्होंने कहा, ‘जब आप काम के लिए नए लोगों से मिलते हैं और उनसे बात करते हैं, तो हमेशा यही होता है कि इस बात की चिंता न करें कि वह आपके बारे में क्या सोच रहे हैं। जहां तक मुझे लगता है कि हमें खुद को साबित करने की जरूरत है। खासतौर पर इसलिए क्योंकि हम जिस जगह में हैं, उसमें काफी हद तक पुरुषों का वर्चस्व है।’

हर जगह महिलाओं को पुरुषों द्वारा कमतर आंकने पर भी बिग बी की नातिन ने खुलकर बात की।
उन्होंने आगे कहा, ‘यह उन परस्थितियों में है जहां आपको लगता है कि आपको अपने
आप को साबित करने की आवश्यकता है, लेकिन हम सभी उन परस्थितियों में रहे हैं
जहां हम सोचने लगते हैं
कि यह व्यक्ति मुझसे क्यों बात कर रहा है जैसे मैं बेवकूफ हूं? यह वह चीज होती है
जहां मुझे लगता है मुझे खुद को साबित करने की जरूरत है। हमें शुरुआत में
यह धारणा बनाने की जरूरत है कि हमें पता है कि हम किस बारे में बात कर रहे हैं।
कृपालु तरीके से आपको हर एक बात समझाने और बताने की जरूरत नहीं है।’

नव्या नवेली नंदा ने पुरुषो को लेकर खुद को होने वाली असुरक्षा और खतरों के बारे में भी बात की।
साथ ही यह भी बताया है कि वह इन सब चीजों से कैसे सामना करती हैं। उन्होंने कहा कि पुरुष-प्रधान पेशे में
काम करने की वजह से बहुत बार खुद को कितना असुरक्षित महसूस करती हैं।
पुरुषों से बात करते हुए भी वह यही महसूस करती हैं।
उन्होंने बताया कि कई बार ऐसा भी हुआ है जब वेंडर्स और डॉक्टर्स ने बातचीत की तो उन्हें बेवकूफ समझा गया।
इसके अलावा अमिताभ बच्च की नातिन ने महिलाओं और पुरुषों-प्रधान पेशे को लेकर और भी ढेर सारी बातें कीं।