आइये जानते हैं अंडमान निकोबार आइलैंड्स के बारे कीच रोचक तथ्य…

0
7

 

अंडमान और निकोबार आईलैंड एक नायाब जगह, दोस्तों आज हम भारत के ऐतिहासिक और नायाब अंडमान निकोबार चलते हैं और अंडमान से जुड़ी रोचक बातों को जानने की कोशिश भी करते हैं।

1 – दोस्तों अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह अपनी खूबसूरती के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है। आपको बता दें कि यह 572 छोटे-छोटे द्वीप से मिलकर बना है।

2 – क्या आपको पता है कि पहली बार पोर्ट ब्लेयर में ही तिरंगा फहराया गया था? जो कि अंडमान और निकोबार की राजधानी है।

3 – ऐसा माना जाता है की है कि अंडमान शब्द मलय भाषा के शब्द हन्दूमन से आया और निकोबार शब्द भी इसी भाषा से लिया गया है।

4 – यहां के जारवा जनजाति के लोग 500 से भी कम की संख्या में है और वह बाहरी लोगों से कम ही मिलते जुलते हैं।

5 – बेहद चर्चित होने के बावजूद इस आईलैंड पर कई जगह ऐसी है कि जहां इंसान पहुंच नहीं सका। यहां के 572 आईलैंड में से केवल 36 ही जाने या बसने लायक हैं।

6 – निकोबार में जाने के लिए बस चुनिंदा लोगों को ही इजाजत मिलती है। टूरिस्ट के लिए यहाँ जाना मुश्किल है।

7 – धरती का सबसे बड़ा कछुआ यहीं मिलता है और धरती का सबसे छोटा कछुआ ऑलिव राइडली भी यही आसरा बनाता है।

8 – ब्रिटिश शासन में आंदोलनकारि इसे काला पानी कहा करते थे। यह पोर्ट ब्लेयर में एक अलग तरह की सेल्यूलर जेल थी।

9 – क्या आपने कभी गौर किया? भारत के 20 रूपये के नोट पर जंगल वाला हिस्सा अंडमान द्वीप का ही एक हिस्सा है।

10 – दोस्तों यहां कमर्शियल फिशिंग बैन है। यहां मछलियों को पूरी उम्र जीने का मौका मिलता है। यहां वह अपनी पूरी जिंदगी मजे से जी पाती हैं।

11 – अंडमान के आईलैंड पर सदी के पहले सूर्योदय की पहली किरण पड़ी थी इसलिए यह सौभाग्यशाली आईलैंड कहलाता है।

TECH$$$$$$CHAKIT ? क्लिक करें

12 – यहां कोकोनट क्रैब भी बहुत पाए जाते हैं जिनकी लंबाई 1 मीटर तक होती है। इनका मनपसंद भोजन नारियल है। यह अपने मुंह से नारियल के मजबूत खोल को भी फाड़ डालते हैं।

13 – दुसरे विश्वयुद्ध के दौरान अंडमान और निकोबार पर जापान ने कब्जा जमाया था। 3 साल तक यहाँ जापान का कब्जा रहा।