आपके Smartphone की बैटरी बताएगी आपका मूड, जानें कितनी बैटरी का क्या मतलब?

0
1
battery

कुछ लोग होते हैं, जिनके स्मार्टफोन की बैटरी हमेशा की कम रहती है। क्या आपने कभी यह भी सोचा था
की आपके स्मार्टफोन की बैटरी आपका मूड तय करेगी? टेक्नोलॉजी के तेजी से बढ़ते हुए इस समय में ऐसा
होना भी संभव ही है। आपको बता दें, हाल ही में एक शिव किया गया है। मोबाइल फोन को लेकर हुए इस
शोध में बताया गया है की किस तरह आपके फोन की बैटरी आपका मूड तय करती है। लंदन और फिनलैंड
की अल्टो यूनिवर्सिटी ने फोन की बैटरी पर एक रिसर्च की है। इसमें बताया गया है की किस तरह से आपका
मोबाइल फोन आपके मूड पर असर करता है। जानते हैं आपके फोन में बैटरी के प्रतिशत से कैसा होने चाहिए
आपका मूड:

इस रिसरच के अनुसार, अगर आपके स्मार्टफोन की बैटरी फुल चार्ज है, तो आपका मूड अच्छा रहता है।
आप पूरे दिन एक्टिव महसूस करते हैं और सभी काम भी जल्दी-जल्दी पूरे कर लेते हैं। वहीँ, जिन लोगों का
फोन चार्ज नहीं रहता, वो थोड़े चिड-चिड़े हो जाते हैं और काम में भी अपना बेस्ट नहीं दे पाते हैं। लंदन
यूनिवर्सिटी के रिसर्च के अनुसार, अगर आपके फोन की बैटरी 100 प्रतिशत या फुल चार्ज है, तो आप
पॉजिटिव महसूस करते हैं। वहीं, 50 प्रतिशत या उससे कम बैटरी चार्ज होने पर आप नकारात्मक सोचने
लगते हैं। यह रिसर्च 23 वर्ष से लेकर 57 वर्ष के लोगों पर की गई है। रिसर्च के दौरान, लोगों का कहना
था की फोन फुल चार्ज हो तो उन्हें अच्छा महसूस होता है। वहीं, अगर बैटरी कम हो, तो मूड सही नहीं
रहता।

स्मार्टफोन का एडिक्शन या उस पर निर्भरता इतनी बढ़ गई है की अब लोग अपने फोन में बची बैटरी के
हिसाब से ट्रेवल टाइम को मापने लगे हैं। इस रिसर्च में मौजूद लोग रोजाना 60 से 180 मिनट तक ट्रेवल
करते हैं। ट्रेवल करते समय टाइम को बैटरी के स्टेटस से तय किया जाता है। जैसे की- अगर आपके
स्मार्टफोन की बैटरी 50 प्रतिशत हो गई है, तो आप इस तरह मापेंगे की घर पहुंचने में 20 प्रतिशत
बैटरी तक का समय लगेगा।