कम नंबर पाकर भी ‘प्लेऑफ’ में SRH, ऐसा करने वाली पहली टीम बनी

0
4

दिसचस्प यह रहा कि मुंबई की जीत से सनराइजर्स हैदराबाद की टीम 12 प्वाइंट होने के बावजूद बेहतर रन रेट के कारण प्लेऑफ में क्वालीफाई करने में सफल रही. यह आईपीएल में पहला अवसर है जबकि कोई टीम इतने कम अंक होने पर भी प्लेऑफ में जगह बनाने में सफल रही.

कप्तान रोहित शर्मा (नाबाद 55) की शानदार पारी की मदद से मुंबई इंडियंस ने रविवार को वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए आईपीएल-12 के अंतिम लीग मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स को 9 विकेट से करारी शिकस्त दी और आईपीएल के प्वाइंट टेबल में टॉप पोजिशन के साथ लीग चरण का समापन किया.

दिसचस्प यह रहा कि मुंबई की जीत से सनराइजर्स हैदराबाद की टीम 12 प्वाइंट होने के बावजूद बेहतर रन रेट के कारण प्लेऑफ में क्वालीफाई करने में सफल रही.

मौजूदा चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स की टीम आईपीएल 2019 के पहले क्वालीफायर में

7 मई को अपने घरेलू मैदान चेपक पर मुंबई इंडियंस से भिड़ेगी.

वहीं, दिल्ली कैपिटल्स और सनराइजर्स हैदराबाद 8 मई को विशाखापट्टनम में एलिमिनेटर में भिड़ेंगे.

मुंबई ने रविवार को यहां कोलकाता नाइटराइडर्स को 9 विकेट से हराकर अंकतालिका में

शीर्ष स्थान हासिल किया. उसकी इस जीत से हैदराबाद 12 अंक होने के बावजूद प्लेऑफ में पहुंच गया.

यह आईपीएल में पहला अवसर है जबकि कोई टीम इतने कम अंक होने पर भी

प्लेऑफ में जगह बनाने में सफल रही.

मुंबई (नेट रन रेट 0.421), चेन्नई (0.131) और दिल्ली (0.04)

तीनों टीमों के समान 18 अंक रहे लेकिन पहली 2 टीमें बेहतर रन रेट के कारण शीर्ष दो स्थानों पर रही.

केकेआर (नेट रन रेट 0.028) को प्लेऑफ में पहुंचने के लिए केवल जीत की जरूरत थी

लेकिन हारने से उसने 12 अंकों के साथ अपने अभियान का अंत किया.

सनराइजर्स (0.577) और किंग्स इलेवन पंजाब (-0.251)

के भी 12 . 12 अंक रहे लेकिन हैदराबाद की टीम बेहतर रन गति के आधार पर प्लेऑफ में पहुंच गई.

मुंबई और चेन्नई दोनों 3-3 बार की चैंपियन हैं.

ये दोनों टीमें 7 मई को चेन्नई में पहला क्वालीफायर खेलेंगी जबकि दिल्ली और हैदराबाद 8 मई को विशाखापट्टनम में एलिमिनेटर में भिड़ेंगी.

इस मैच की विजेता टीम पहले क्वालीफायर में हारने वाली टीम से 10 मई को विशाखापट्टनम में

दूसरा क्वालीफायर खेलेगी. फाइनल 12 मई को हैदराबाद में खेला जाएगा.

राजस्थान रायल्स (नेट रन रेट -0.449) सातवें और रायल चैलेंजर्स बेंगलोर

(-0.607) 11-11 अंक लेकर क्रमश: 7वें और 8वें स्थान पर रहे.

इस तरह से पहली बार शीर्ष पर रहने वाली टीम और सबसे निचले पायदान वाली टीम के बीच केवल 7 अंक का अंतर रहा.