खुशखबरी: यूजीसी ने जेआरएफ और एसआरएफ के लिए फेलोशिप की राशि बढ़ाई …..

0
4

वे उम्मीदवार जो यूजीसी नेट परीक्षा पास कर चुके हैं और आवेदन करना जारी है, उनके लिए एक अच्छी खबर है।

यह खबर उनके उत्‍साह बढ़ाने वाली है।

ऐसे छात्रों को जेआरएफ और एसआरएफ फेलोशिप की बढ़ी हुई राशि प्राप्त होगी और इसे यूजीसी ने मंजूरी दे दी है।

जो उम्मीदवार यूजीसी नेट परीक्षा से जुड़े हुए हैं, उन्हें जल्द ही फेलोशिप की संशोधित राशि मिल जाएगी।

विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने विज्ञान, मानविकी और सामाजिक विज्ञान के लिए फैलोशिप की संशोधित राशि को

मंजूरी दे दी है। फेलोशिप की बढ़ी हुई राशि के लिए यह जानकारी यूजीसी ने 3 जून, 2019 को जारी एक अधिसूचना के

जरिए से दी थी।

फेलोशिप की संशोधित राशि के अनुसार जेआरएफ उम्मीदवारों को 31,000 रुपये मिलेंगे, जबकि एसआरएफ

उम्मीदवारों को फेलोशिप की राशि के रूप में 35,000 रुपये मिलेंगे।विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा जारी एक

सार्वजनिक सूचना में कहा गया है कि 26 फरवरी 2019 को विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग की बैठक आयोजित

की गई थी।

विज्ञान, मानविकी और सामाजिक विज्ञान (UGC-NET) में जूनियर रिसर्च फेलोशिप (JRF) / सीनियर रिसर्च

फेलोशिप (SRF) के लिए UGC की योजना के तहत फेलोशिप की संशोधित राशि को दी जाएगी और इसके लिए

अनुमोदन कर दिया गया है।

यूजीसी द्वारा जारी नोटिस के अनुसार जेआरएफ और एसआरएफ के लिए फेलोशिप की संशोधित दरें एक जनवरी,

2019 से लागू होंगी।

यूजीसी और भारत सरकार के नियमों के अनुसार, एचआरए की संशोधित दरें 8 प्रतिशत, 16 प्रतिशत और

24 प्रतिशत होंगी। एचआरए की ये दरें उस स्थान पर लागू होंगी, जहां रिसर्च फेलो काम कर रहा है।

बाकी अन्य नियमों और शर्तों में कोई बदलाव नहीं हुआ है।

यह उच्च अध्ययन में अनुसंधान के क्षेत्र में प्रवेश करने के इच्छुक उम्मीदवारों के हितों को प्रोत्साहित करेगा।