गंभीर रणजी टीम के सहयोगी सदस्यों की नियुक्ति से जुड़े साक्षात्कार का हिस्सा नहीं होंगे

1
63

दिग्गज क्रिकेटर गौतम गंभीर ने खुद को दिल्ली के सीनियर पुरुष टीम के सहयोगी सदस्यों की नियुक्ति से जुड़े साक्षात्कार से अलग कर लिया है. दिल्ली जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) की उच्च समिति के द्वारा लिए जाने वाले इस साक्षात्कार में गंभीर के कई पुराने साथी क्रिकेटर भाग ले रहे है.

इस समिति में गंभीर विशेष आमंत्रित सदस्य है, जिसमें वीरेंद्र सहवाग, आकाश चोपड़ा और राहुल संघवी शामिल हैं. दिल्ली टीम के कोच के पद के लिए मिथुन मनहास और रजत भाटिया जैसे पूर्व खिलाड़ियों ने आवेदन दिया है जो गंभीर के साथ प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेल चुके है.

डीडीसीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई से कहा, ‘गंभीर रणजी ट्रॉफी नियुक्ति से जुड़ी बैठकों में भाग नहीं लेंगे क्योंकि इससे हितों का टकराव हो सकता हैं. वह हालांकि दिल्ली क्रिकेट का खाका तैयार करने में अहम भूमिका निभाएंगे.’

IND vs ENG: टीम इंडिया जीत से 84 रन दूर, स्टंप्स तक स्कोर 110/5

अधिकारी ने कहा, ‘वह अंडर-16 और अंडर-19 टीम से जुड़ी भर्तियों का हिस्सा होंगे. केपी भास्कर ने एक बार फिर मुख्य कोच के पद के लिए आवेदन दिया है, लेकिन तीसरे साल उन्हें यह पद मिलने की संभावना कम है.’ सीनियर टीम के लिए चयन आवेदनों में मनहास का नाम काफी रोचक है.

मनहास सहवाग और चोपड़ा की कप्तानी में खेले हैं और राज्य एवं क्षेत्रीय स्तर पर टीम का प्रतिनिधित्व कर चुके है. मनहास किंग्स इलेवन पंजाब के भी बल्लेबाजी कोच थे जहां सहवाग कोचिंग सदस्य के प्रमुख थे.

भाटिया ने भी इस पद के लिए आवेदन किया है, उन्होंने कोच का सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम पूरा किया है. मनोज प्रभाकर, अजय रात्रा, लालचंद राजपूत, सुलक्षणा कुलकर्णी, हरि गिदवानी और विनय लंबा ने भी दिल्ली के कोच बनने के दावेदारों में शामिल हैं.