चौटाला ने यूं ही नहीं की थी हुड्डा के पुत्र की तारीफ, यहां भी पक सकती है म‍हागठबंधन की खिचड़ी ……

0
0

हरियाणा में लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद नए राजनीतिक समीकरणों का माहौल बन रहा है।

इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला द्वारा पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा के बेटे दीपेंद्र हुड्डा की तारीफ करने से प्रदेश में

नई राजनीतिक अटकलों को हवा मिल रही है।

माना जा रहा है कि चौटाला जैसे धुर कांग्रेस विरोधी नेता ने यूं ही हुड्डा के बेटे की तारीफ नहीं कर दी।

हरियाणा में भाजपा विरोधी दलों की महागठबंधन की खिचड़ी पक सकती है और इसकी हलचल भी दिखने लगी है।

लोकसभा चुनाव में भाजपा को जिस तरह से एक तरफा जीत मिली और विपक्ष को करारी हार का सामना करना पड़ा,

इसके कारण कयास लगाए ला रहे हैंं राज्य में विधानसभा चुनाव से पहले विरोधी दल एक साथ आ सकते हैं।

बताया जाता है कि इस दिशा में राजनीतिक दलों ने अंदरूनी तौर पर प्रयास शुरू कर दिए हैं।

इनेलो से अलग होकर अस्तित्व में आई जननायक जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी के बीच लोकसभा चुनाव में गठबंधन था।

आप सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल और पार्टी की हरियाणा इकाई के अध्यक्ष नवीन जयहिंद ने आखिर तक प्रयास किया कि

कांग्रेस को भी इस गठबंधन का हिस्सा बना लिया जाए।

शुरू में हालांकि जननायक जनता पार्टी के संरक्षक दुष्यंत चौटाला कांग्रेस को गठबंधन का हिस्सा बनाए जाने के हक

में नहीं थे, लेकिन भाजपा को शिकस्त देने की मंशा से आखिर में वह तैयार हो गए।

कांग्रेस की आपसी गुटबाजी के चलते महागठबंधन की नींव नहीं पड़ी तो जेजेपी-आप गठबंधन ने ही अपने

बूते चुनाव लड़ा, जिसका नतीजा बुरी तरह से हुई हार के रूप में सामने आया।