जय श्रीराम का मुद्दा: डाकघरों में पोस्टकार्डो की बिक्री बंद, कैसे भेजें दीदी को जय श्रीराम लिखे पोस्टकार्ड ….

0
0

पश्चिम बंगाल की राजनीति में जय श्रीराम का मुद्दा इन दिनों काफी गर्म है। पिछले दिनों राज्य में कुछ स्थानों पर

जय श्रीराम के नारे लगाने पर राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा तीखी प्रतिक्रिया के बाद भाजपा ने इसे एक

बड़ा हथियार बना लिया है।

हाल में संपन्न लोकसभा चुनाव में भाजपा ने पूरे देश के साथ-साथ पश्चिम बंगाल में भी शानदार सफलता हासिल की है।

वर्ष 2014 के चुनाव में राज्य में जहां भाजपा की झोली में मात्र 2 सीटें थी वहीं इस बार कुल 18 सीटें आ गई हैं।

इससे उत्साहित भाजपा ने अब राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव पर अपनी निगाहें टिका दी है।

पार्टी हर कदम तृणमूल सुप्रीमो तथा राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को घेरने की रणनीति पर काम कर रही है।

इसी रणनीति के तहत जय श्रीराम के नारे को पूरे राज्य में जोर-शोर से उछाला जा रहा है।

भाजपा सूत्रों के अनुसार इस नारे के साथ ममता बनर्जी को अपने जाल में फंसाना है और वो इस जाल में फंसती

भी जा रही हैं।

इसी का असर है कि उन्होंने जय श्रीराम के नारे पर तीखी प्रतिक्रिया दी।

जिसके बाद भाजपा ने राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को जय श्रीराम लिखे लाखों पोस्टकार्ड भेजने का निर्णय लिया है।

राज्य के विभिन्न भागों से ममता बनर्जी के नाम हर दिन पोस्टकार्ड भेजे जा रहे हैं।

जिसमें जय श्रीराम का नारा लिखा होता है।

पूरे राज्य में भाजपा समर्थकों ने बड़े पैमाने पर इस अभियान को चला रखा है।

जबकि सिलीगुड़ी की स्थिति इससे कुछ उलट है।

सिलीगुड़ी में भाजपा के इस अभियान की हवा निकल गई है।

क्योंकि सिलीगुड़ी तथा आसपास के इलाके के अधिकांश डाकघरों में पोस्टकार्ड उपलब्ध ही नहीं है।

एक तरह से तो पोस्टकार्डो की बिक्री बंद कर दी गई है।