जानें क्या होता है यह ,Pulwama Terror Attack के बाद पाकिस्तान से वापस लिया गया MFN का दर्जा….

0
5

नई दिल्ली, [स्पेशल डेस्क]। Pulwama Terror Attack जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को अब तक का सबसे

बड़ा आतंकी हमला हुआ। जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर अवंतीपोरा के पास गोरीपोरा में हुए हमले में CRPF के 44

जवान शहीद हो गए। कई अन्य जवान गंभीर रूप से जख्मी हैं। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित आतंकवादी

संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन ने ली है। इस बीच शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट कमेटी

ऑन सिक्यॉरिटी (CCS) की बैठक हुई। इस बैठक में पाकिस्तान के खिलाफ कड़े कदम उठाने का फैसला लिया गया है।

आतंकी हमले के बाद केंद्र सरकार ने पाकिस्तान के खिलाफ कड़े कदम उठाने की दिशा में काम शुरू कर दिया है।

रणनीतिक तौर पर अंतरराष्ट्रीय समुदाय के जरिए पाकिस्तान पर कूटनीतिक दबाव बनाया जाएगा। इसके अलावा केंद्र सरकार

ने पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस लेने का फैसला किया है। इस फैसले को तुरंत प्रभाव से लागू कर

दिया गया है।

MFN यानि मोस्ट फेवर्ड नेशन एक खास दर्जा होता है। यह दर्जा व्यापार में सहयोगी राष्ट्रों को दिया जाता है।

इसमें MFN राष्ट्र को भरोसा दिलाया जाता है कि उसके साथ भेदभाव रहित व्यापार किया जाएगा। डब्ल्यूटीओ के

नियमों के अनुसार भी ऐसे दो देश एक-दूसरे से किसी भी तरह का भेदभाव नहीं कर सकते। इसमें यह भी कहा

गया है कि अगर व्यापार सहयोगी को खास स्टेटस दिया जाता है तो WTO के सभी सदस्य राष्ट्रों को भी वैसा ही दर्जा

दिया जाना चाहिए।

पाकिस्तान को कब दिया गया MFN का दर्जा