ताजिकिस्तान जेल में इस्लामिक आतंकवादियों का चाकुओं से हमला, कुल 32 कैदी मारे गए ….

0
0

ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे के पास इस्लामिक स्टेट के आतंकवादियों ने दंगा करने के बाद यहां की एक उच्च सुरक्षित

जेल में कुल 32 कैदियों की चाकुओं से हत्या कर दी। इन आतंकवादियों ने पहले तीन गार्डों की हत्या की उसके बाद

अपने साथी 5 कैदियों की हत्या कर दी।

इस बारे में मध्य एशियाई देश के न्याय मंत्रालय ने सोमवार को इस बारे में विस्तार से जानकारी दी। मंत्रालय की ओर से

बताया गया कि जिस जेल में हत्या की ये वारदात हुई उसमें 1500 कैदी थे। आतंकवादियों ने जब इस वारदात को अंजाम

दिया उसके बाद सुरक्षाबलों ने भी एक्शन लिया, उनके इस एक्शन में कुल 24 आतंकवादी मारे गए।

सुरक्षाबलों ने जानकारी दी कि जेल में इन दंगाईयों को उकसाने वालों में एक बेखरुज़ गुलमुरोद था, जो ताजिक विशेष

बलों के कर्नल गुलमोहर खालिमोव का पुत्र था। बेखरूज गुलमुरोद 2015 में इस्लामिक स्टेट के खिलाफ था और मंत्रालय

के अनुसार, सीरिया में मारा गया है।

इस्लामिक स्टेट, जिसने एक समय में सीरिया और इराक में भूमि के बड़े हिस्से को नियंत्रित किया था, लेकिन अब अपने

गढ़ खो दिए हैं। पिछले साल नवंबर में एक और ताजिक जेल दंगा के लिए जिम्मेदारी का दावा किया था, जिसने जुलाई

2018 में पश्चिमी पर्यटकों पर अपने अनुयायियों द्वारा घातक हमले किए थे।