तुलसी करती है ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल, जानिये कैसे करती है काम…

0
13

हिंदू धर्म में तुलसी का काफी महत्व है. यह एक पवि‍त्र पौधा है. पूजा से लेकर शादी तक सभी शुभ कार्यों में तुलसी का इस्तेमाल होता है. तुलसी एक ऐसा पौधा है जिसके कई गुणकारी असर देखने को मिलते हैं. सर्दी, जुखाम, खासी जैसी बीमारियों के अलावा तुलसी (Tulsi leaves) सांस संबंधी बीमारियों को भी दूर करने में काफी इस्तेमाल आता है. इतना ही नहीं तुसली के कई लाइलाज (healing properties) बीमारियों को भी बढ़ने से रोका जा सकता है. तुलसी की एक छोटी से पत्ती (Tulsi leaves) के सहारे ही शरीर और सेहत दोनों दोनों के दुरुस्त किया जा सकता है. तुलसी से डायबि‍टीज (tulsi and diabetes) को भी नि‍यंत्र‍ित क‍िया जा सकता है. इतना ही नहीं तुलसी कई तरह की लाइफस्टाइल से होने वाली बीमार‍ियों को से भी नि‍जात दि‍लाने में मददगार है.

तुलसी डायबिटीज के मरीजों के लिए भी अच्छी हैं क्योंकि इसे ब्लड में शुगर का लेवल सही रहता है. तुलसी की पत्तियां कोलेस्ट्रॉल लेवल को न‍ियंत्रण में रखने में मददगार होती हैं. ये शरीर के ख़राब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद कर अच्छे कोलेस्ट्रॉल के लेवल को बढ़ाने का काम करती हैं.

हाल ही में हुए एक शोध में यह बात सामने आई क‍ि तुलसी टाइप-2 डायबि‍टीज से भी नि‍जात द‍िला सकती है. कैसे डायब‍िटीज को कम करती है तुलसी

– तुलसी के पत्तियों के सेवन से ब्लड शुगर लेवल का स्तर ठीक रहता है, जिसके कारण मधुमेह का खतरा कम हो जाता है. – – – तुलसी की पत्तियों में तनाव को कम करने वाला हार्मोन कोर्टिसोल पाया जाता है.
– तुलसी की मदद से तनाव से छुटकारा पाया जा सकता है. अगर सिर दर्द से काफी परेशान रहते हैं तो तुलसी का रोजाना सेवन करना चाहिए. इसके लिए तुलसी की पत्तियों को पानी में उबाल लें और फिर छान कर पानी को पीने से सिर दर्द से राहत मिलेगी.