दवाइयों के अधिक सेवन से बच्चों का बिगड़ सकता है पाचन तंत्र, जानें कैसे …

0
1
medicine

दवाइयों के अत्यधिक सेवन किसी भी उम्र के लोगों के लिए परेशानी का सबब बन सकता है। हल्की सी
सर्दी, खांसी या फिर पेट खराब हो तो लोग सीधे डॉक्टर के पास जाते हैं और डॉक्टर एंटीबायोटिक दवाइयों
से इलाज शुरू कर देते है। एंटीबायोटिक दवाइयों के अधिक सेवन करने से बच्चों में कई तरह की बीमारियां
हो सकती हैं। ये बातें एक अध्ययन में सामने आई हैं।

अमेरिकन जर्नल ऑफ फिजियोलॉजी, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल एंड लिवर फिजियोलॉजी जर्नल’ में छपे एक अध्ययन
की मानें तो शारीरिक और मानसिक विकास के शुरुआती चरण में एंटीबायोटिक का सेवन न सिर्फ हाजमा
बिगाड़ सकता है, बल्कि पेट संबंधी रोगों से लड़ने की क्षमता भी घटाता है।

शोधकर्ताओं के मुताबिक, ‘एंटीबायोटिक’ गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल प्रणाली की आंतरिक संरचना में बदलाव लाता है। गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल प्रणाली में सर्वाधिक मात्रा में गुड बैक्टीरिया पाए जाते हैं। ये न सिर्फ पाचन क्रिया को सुचारू

बनाए रखते हैं, बल्कि पेट और आंत की सेहत के लिए हानिकारक कीटाणुओं के खात्मे में भी अहम भूमिका निभाते हैं।