दिल्ली के 2 नेताओं की यूपी में सड़क हादसे में मौत, एक ने लड़ा था मनीष सिसोदिया के खिलाफ चुनाव …

0
0
ramakrishan

लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे (Lucknow Agra Expressway) पर सोमवार रात हुए भीषण सड़क हादसे
में दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में बतौर निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव लड़ने वाले 2 नेताओं विक्रम और सुरजीत
सिंह की मौत हो गई। सुरजीत सिंह ने पटपड़गंज विधानभा सीट से AAP प्रत्याशी मनीष सिसोदिया के खिलाफ
चुनाव लड़ा था। वहीं, विक्रम ने त्रिलोकपुरी विधानसभा सीट से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर ताल ठोंकी थी।
दोनों ने सड़क हादसे में जान गंवा दी।

मिली जानकारी के मुताबिक, सुरजीत सिंह मयूर विहार से बसपा के निगम पार्षद थे। कॉलेज से छात्र
राजनीति में आ गए थे। इनके परिवार में दो पत्नियां, तीन बच्चे, मां और तीन भाई हैं।

मनीष सिसोदिया के खिलाफ लड़ा था चुनाव

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में सुरजीत सिंह ने पटपड़गंज विधानसभा क्षेत्र से दिल्ली सरकार में शिक्षा
और वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया के खिलाफ निर्दलीय प्रत्याशी के तौर चुनाव लड़ा था। यह अलग बात है कि
इस चुनाव में वह बुरी तरह हार गए थे और उनकी जमानत तक जब्त हो गई थी।

सुरजीत सिंह ने दिल्ली नगर चुनाव 2017 में बहुजन समाज पार्टी का दामन छोड़कर भारतीय जनता पार्टी
ज्वाइन कर ली थी, इसके बाद से लगातार इस पार्टी से जुड़े रहे, लेकिन विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं
मिलने पर निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में पटपड़गंज से चुनाव भी लड़ा था।

सुरजीत साईं मंदिर के संस्थापक थे। 16 फरवरी सुरजीत अपने साथियों के साथ सुबह शादी में जाने के
लिए  प्रतापगढ़ (यूपी) निकले थे। रविवार रात को वह शादी में शामिल भी हुए। इसके बाद 17 फरवरी
के दिन उत्तर प्रदेश के एक मंत्री से लखनऊ में मुलाकात की। फिर रात को कार से दिल्ली लौट रहे थे।
लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर बस ने टक्कर मार दी। इसमें सुरजीत सहित चार की मौत हो गई