दुश्‍मन हो जाए सावधान! भारत समुद्र में उतारने वाला है INS Khanderi, जानें क्‍यों है इतनी खास …

0
0
exocet

भारतीय नौसेना को जल्‍द ही आईएनएस खांदेरी (INS Khanderi) की ताकत मिलने वाली है। आईएनएस
खांदेरी फ्रांस ऑरिजन की स्‍कॉर्पियन श्रेणी की दूसरी डीजल-इलेक्ट्रिक सबमरीन (Scorpene Class diesel-
electric Submarine) है। यह भारतीय नौसेना के उस प्रोजेक्ट 75 (Project 75) का हिस्‍सा है, जिसके
तहत मझगांंव डॉकयार्ड लिमिटेड फ्रांस के मैसर्स डीसीएनएस के साथ मिलकर छह पनडुब्बियों का निर्माण कर
रहा है। आईएनएस खांदेरी को 28 सितंबर को भारतीय नौसेना में शामिल कर लिया जाएगा। इस दौरान रक्षा
मंत्री राजनाथ सिंह मुख्‍य अतिथि होंगे। इस पनडुब्‍बी को खांदेरी का नाम मराठा बलों के द्वीपीय किले के नाम
पर दिया गया है। इसकी 17वीं सदी के अंत में समुद्र में मराठा बलों का सर्वोच्च अधिकार सुनिश्चित करने में
बड़ी भूमिका थी।

इसी दौरान एक युद्ध पोत को भी समुद्र में ट्रायल के लिए उतारा जाएगा। यह युद्ध पोत शिवालिक क्‍लास
(Shivalik Class stealth fgigate) का है और प्रोजेक्‍ट 17A (Project 17A) का हिस्‍सा है। प्रोजेक्‍ट
17A के तहत कुल सात युद्ध पोतों का निर्माण होना है। आपको यहां पर बता दें कि प्रोजेक्‍ट 17A के तहत
बन रहे युद्धपोत अत्‍याधुनिक राडार सिस्‍टम से लैस हैं। इनसे ब्रह्मोस (Supersonic Cruise Missile
Brahmos) और बराक मिसाइल को छोड़ा जा सकता है। इन युद्धपोतों की टॉप स्‍पीड 52 किमी. प्रतिघंटे
या 28 नॉट्स है। इन पर दो हेलीकॉप्‍टर (ध्रुव और सीकिंग Mk 42Bs हेलीकॉप्‍टर) उतर सकते हैं।

615 टन वजनी यह INS Khanderi सबमरीन इसी श्रेणी की आईएनएस कलावरी के बाद दूसरी पनडुब्‍बी है। आईएनएस कलावरी (INS Kalvari) को दिसंबर 2017 में नौसेना में शामिल किया गया था। आपको यहां पर
बता दें कि स्‍कॉर्पियन सबमरीन प्रोग्राम (Scorpene Submarine Programme) को प्रोजेक्‍ट 75 (Project
75) का नाम दिया गया है।

हालांकि यह प्रोग्राम अपने तय समय से करीब पांच साल पीछे चल रहा है। इस पूरे प्रोग्राम पर 25,700 करोड़
रुपये खर्च होने हैं। आईएनएस खांदेरी के बाद दो और सबमरीन वर्ष 2022-2023 में भारतीय नौसेना में शामिल
होंगी। आईएनएस कलावरी के अलावा आईएनएसचक्र और आईएनएस अरिहंत न्‍यूक्लियर पावर सबमरीन (Nuclear
Powered Submarine) हैं। जहां तक खांदेरी की बात है तो यह भी तय समय से एक साल के बाद भारतीय
नौसेना में शामिल होने वाली है।