पानी-पानी हुआ ताजमहल, देखिए- दुनिया के सातवें अजूबे का आज का हाल

0
28

आगरा में बीते दो दिनों में भयंकर बारिश हुई. बारिश का पानी ताजमहल में भी घुस गया. ताज महल में पानी घुसने से पर्यटकों की चिंता बढ़ गई है.

देश के कई हिस्सों में जमकर बारिश हो रही है. आसमान से बरस रही इस आफत ने अबतक कई जगह भयंकर तबाही मचाई है. आगरा और देश की शान कहे जाना वाला ताजमहल भी इससे अछूता नहीं रहा.सुप्रीम कोर्ट आए दिन ताजमहल को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार को फटकार लगाती रहती है, लेकिन ऐसा लगता है यूपी की योगी सरकार को इसका कोई असर नहीं होता है. क्योंकि बारिश के कारण ताजमहल का जो हाल हुआ है उससे तो यही लगता है. आगरा में हुई भयकंर बारिश का पानी ताज महल के अंदर घुस गया है.

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने ताज महल के संरक्षण से जुड़े मामले की सुनवाई करते हुए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार को जमकर फटकार लगाई थी.ताज की हिफाजत का विजन डॉक्यूमेंट का मसौदा पेश करने पर कोर्ट ने कहा कि हम यहां आपका दस्तावेज जांचने के लिए नहीं बैठे हैं. क्या यही हमारा काम रह गया है. कोर्ट ने कहा कि सरकार और अफसरों का रवैया कॉमिडी शो जैसा है. पूरे मामले का मजाक बना दिया है. कोर्ट ने सरकार से पूछा कि ताज महल के देखरेख की जिम्मेदारी किसकी है. सोमवार तक उसका नाम बताएं.

कोर्ट ने कहा कि ऐसी हालत देखकर अगर यूनेस्को ने ताजमहल से वर्ल्ड हेरिटेज का दर्जा वापस ले लिया तो क्या होगा. इसपर अटॉर्नी जनरल के.के वेणुगोपाल ने कहा कि यदि इस एतिहासिक स्मारक का विश्व धरोहर का दर्जा वापस लिया जाता है तो यह देश के लिए बहुत ही शर्मिंदगी वाली बात होगी.

ताजमहल में जिस तरह से पानी घुसा है उससे एक बार फिर प्रशासन के दावों की पोल खुल गई है. प्रशासन और सरकार ने अगर समय रहते तैयारियां की होती तो ताजमहल के अंदर पानी नहीं घुसा होता.

दुनिया के इस सातवें अजूबे को देखने के लिए देश से ही नहीं दुनियाभर से पर्यटक आते हैं. ऐसे में योगी सरकार और प्रशासन की लापरवाही देश ही नहीं दुनिया के सामने भी आ गई है.

आगरा में बारिश से 6 की मौत

ताज नगरी आगरा में पिछले 24 घंटे में बारिश से 6 लोगों की मौत हो गई. राज्य सरकार ने वहीं मृतकों के परिजनों को 4 लाख मुआवजा देने का ऐलान किया है. बीते दो दिनों में बारिश से अब तक लगभग 800 करोड़ रुपये का नुकसान हो चुका है.

इसमें संपत्ति को नुकसान पहुंचा है और कई सामान भी खराब हुए हैं. बारिश के कारण आगरा प्रशासन ने जिले के सभी स्कूलों को 27 और 28 जुलाई को बंद रहने का आदेश दिया है. कई जगहों पर भारी जलभराव के कारण ट्रैफिक जाम की समस्या आ रही है. आगरा के एमजी रोड पर एक पेड़ गिर जाने से ट्रैफिक जाम लग गया.