पुलवामा अटैकः हमले की जगह से आरडीएक्स कैन बरामद

0
0
U.S. Army Soldiers with the 1st Battalion, 21st Infantry, 2nd Brigade, 25th Infantry Division unload bags from a truck before loading them onto a Korean Air Boeing 777 aircraft at Osan Air Base, Republic of Korea May 4, 2018. More than 500 U.S. Soldiers from the 25th Infantry Division were transported from Osan Air Base to the Philippines to support exercise Balakatan in support of the Mutual Airlift Support Agreement, which was exercised at Osan Air Base for the first time. (U.S. Air Force photo by Tech. Sgt. Ashley Tyler)

पुलवामा में आतंकवादी हमले की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने हमले की जगह

से एक टीन कनस्तर बरामद किए का दावा किया है. जिसमें लगभग 25 से 30 किलोग्राम

आरडीएक्स भरे होने का अनुमान है. जांच अधिकारियों के मुताबिक कनस्तर को उस वाहन

में रखा गया था, जिसका इस्तेमाल हमले में किया गया था.

समाचार एजेंसी IANS की मानें तो जांच से जुड़े एक सूत्र ने एजेंसी को बताया कि वह हमले

के अगले दिन 15 फरवरी को अटैक साइट पर गया था. जहां उसे आरडीएक्स वाला एक कनस्तर मिला है.

वो हमला केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के काफिले पर किया गया था, जिसमें 40 जवान शहीद हो गए थे.

एजेंसी को मिली जानकारी के मुताबिक कनस्तर का आकार देख कर ऐसा लगा रहा है कि उसमें लगभग

25 से 30 किलोग्राम आरडीएक्स भरा रहा होगा. उड़ाए जाने से पहले कनस्तर को कार के अंदर रखा गया होगा.

हालांकि अभी अधिकारियों ने इस बारे में कुछ भी कहने से इनकार कर दिया कि कनस्तर में जितना

आरडीएक्स भरे होने का अनुमान है, क्या हमले में उतना ही विस्फोट इस्तेमाल किया गया था?

एनआईए के अनुसार यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि इस हमले में कितने

आरडीएक्स और अन्य विस्फोटकों का इस्तेमाल किया गया था.

यह खुलासा उस मारुति इको वाहन की पहचान किए जाने के अगले दिन किया गया है,

जिसका इस्तेमाल आत्मघाती हमले में किया गया था. उस गाड़ी को वर्ष 2011 से लेकर

अब तक 7 बार बेचा जा चुका है. इसी गाड़ी को आत्मघाती हमलावर आदिल अहमद डार ने इस्तेमाल

किया था. मौक से बरामद गाड़ी के अवशेषों को एनआईए ने फॉरेंसिक और

ऑटो मोबाइल विशेषज्ञों को जांच के लिए भेजा था.