पेटीएम के मालिक विजय शेखर शर्मा का पर्सनल डाटा चुराकर 20 करोड़ रुपये की उगाही करने के मामले में तीन लोगों को किया गिरफ्तार

0
3

नई दिल्ली। पेटीएम के मालिक विजय शेखर शर्मा का कथित तौर पर पर्सनल डाटा चुराकर 20 करोड़ रुपये की उगाही करने के मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें एक महिला भी शामिल हैं, जो विजय शेखर शर्मा की सेक्रेटरी बताई जा रही है। इन तीनों ने विजय का पर्सनल डाटा चुराया और फिर उन्हें ब्लैकमेल किया। तीनों आरोपियों की पहचान विजय की सेक्रेटरी सोनिया धवन, उनके पतिन रूपक जैन और पेटीएम में काम कर चुके देवेंद्र कुमार के रूप में हुई है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि हमें विजय शर्मा से शिकायत मिली, जिसमें उन्होंने सोनिया धवन पर उनके पर्सनल डाटा की चोरी का आरोप लगाया। सोनिया पिछले कई सालों से पेटीएम में कार्यरत थी।

पुलिस ने बताया कि विजय शर्मा को एक ब्लैकमेलर का फोन आया। उसने दावा किया कि उसके पास विजय का पर्सनल डाटा है और उसने इसे सार्वजनिक करने की धमकी दी। इसकी एवज में उसने 20 करोड़ रुपये मांगे। ब्लैकमेलर ने बताया कि उसे यह डाटा कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों से मिला है और उन्हें यह डाटा सोनिया ने दिया है।

पुलिस ने बताया कि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि किस डाटा की चोरी हुई है। कंपनी के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट और विजय शर्मा के भाई अजय शर्मा ने बताया कि ब्लैकमेलर को यकीन दिलाने के लिए उन्होंने दो लाख रुपये ट्रांसफर भी कर दिए थे। फिलहाल पुलिस ने तीनों आरोपियों की गिरफ्तार कर लिया गया है।