प्रदूषण पर दिल्ली-पंजाब आमने-सामने, पंजाब का सवाल दिल्ली पंजाब से ज्यादा प्रदूषित कैसे….

0
3

जालंधर। पंजाब और दिल्ली में प्रदूषण के मुद्दे पर ठन गई है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल लगातार दिल्ली के प्रदूषण के लिए पंजाब को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। इसके लिए वे नासा से जारी तस्वीरों का सहारा ले रहे हैं। दूसरी ओर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, पर्यावरण मंत्री ओपी सोनी, कृषि सचिव काहन सिंह पन्नू और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के चेरयमैन मरवाहा भी जवाब में अपने तर्क पेश कर रहे हैं। सबका एक ही सवाल है कि अगर दिल्ली में पंजाब की वजह से से प्रदूषण हो रहा है, तो पंजाब में दिल्ली से कम प्रदूषण क्यों है। दिल्ली ज्यादा प्रदूषित क्यों हैं। कैप्टन ने तो केजरीवाल के आइआइटी ग्रेजुएट होने पर संदेह जता दिया और कहा कि केजरीवाल वैज्ञानिक तथ्यों के आधार पर बात करें।

इधर, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का कहना है कि पिछले साल के मुकाबले पंजाब का प्रदूषण आधे से भी कम रह गया है। 29 अक्टूबर को पिछले साल के मुकाबले अमृतसर में 219, लुधियाना में 152 व मंडी गोबिंदगढ़ में 123 सस्पेंडिड पार्टीकुलेट मैटर (एसपीएम) की रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की गई है। इसी दिन दिल्ली में एयर क्वालिटी इंडेक्स 355 एसपीएम रहा। इसके आने वाले दिनों में 400 का आंकड़ा छूने के आसार हैं। सोमवार को भी दिल्ली का एक्यूआई 426, जबकि जालंधर का 176 रहा।