बाबूलाल गौर और बहू ने लिया यू-टर्न, टिकट को लेकर बोली ये बात

0
5

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए 176 नामों की सूची सामने आने के बाद से ही भाजपा में घमासान मचा हुआ है। पहली सूची में बड़े नेताओं का नाम नहीं होने से उन्होंने मोर्चा खोल दिया है। खासतौर से पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर गोविंदपुरा सीट से टिकट के लिए अड़े हुए हैं। वो पार्टी पर दबाव बनाने के लिए बयान दे रहे हैं। आज फिर बाबूलाल गौर ने कहा कि, मुझे पक्का विश्वास है कि पार्टी मुझे ही टिकट देगी।

गोविंदपुरा सीट होल्ड किए जाने को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि, “पीएम खुद कहकर गए हैं बाबूलाल गौर एक बार और..अभी पार्टी ने दूसरी सूची जारी नहीं की है। मैं निर्दलीय नहीं लडूंगा, भाजपा से ही लडूंगा। मैंने अभी तक फॉर्म नहीं भरा है।”

इस सीट से बाबूलाल गौर की बहू कृष्णा गौर भी दावेदारी जता रही हैं। टिकट होल्ड करने के बाद कृष्णा गौर के समर्थकों ने पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था और ये जता दिया था कि अगर इस सीट से उन्हें टिकट नहीं मिला तो वो चुनाव का बहिष्कार कर देंगे। प्रेशर पॉलिटिक्स के बीच कृष्णा गौर के भी सुर बदले हुए दिख रहे हैं। इस सीट से टिकट को लेकर उन्होंने कहा कि, “मुझे पार्टी पर पूरा भरोसा। मुझे सीएम ने भरोसा दिलाया कि पार्टी अच्छा फैसला लेगी। निर्दलीय चुनाव लड़ने जैसी कोई बात नहीं है। हम लिस्ट का इंतजार करेंगे।”

इस बीच गोविंदपुरा सीट से टिकट के दावेदार तपन भौमिक का भी बयान आया है। उन्होंने कहा कि, “भाजपा में प्रेशर पॉलिटिक्स की कोई जगह नहीं है। फिर चाहें गोविंदपुरा सीट से हो या किसी दूसरी विधानसभा से, पार्टी इसे बर्दाश्त नहीं करेगी। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि, “जो ये कह रहा है कि निर्दलीय लडूंगा, कांग्रेस से लडूंगा, बाहर चला जाऊंगा, ऐसे लोगों का भाजपा में कोई स्थान नहीं है।”