बिकवाली के बाद लुढ़का शेयर बाजार, निफ्टी 10,820 के स्‍तर पर

0
0

भारतीय शेयर बाजार में गुरुवार को गिरावट का दौर देखने को मिला.

सेंसेक्‍स सेंसेक्स 106.41 अंक टूटकर 36,106.50 अंक पर बंद हुआ.

बैंक और फाइनेंशियल शेयरों में तेज बिकवाली के चलते घरेलू शेयर बाजार कमजोर होकर बंद हुआ. सेंसेक्स 106.41 अंक टूटकर 36,106.50 अंक पर जबकि निफ्टी 33.55 अंक के नुकसान से 10,821.60 अंक पर बंद हुआ. इससे पहले बीएसई का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 45.09 अंकों की मजबूती के साथ 36,258.00 पर जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 4.2 अंकों की बढ़त के साथ 10,859.35 पर खुला.

कारोबार के दौरान इंडसइंड बैंक, कोटक बैंक, फेडरल बैंक, एक्सिस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक और भारतीय स्टेट बैंक के शेयर 2.36 प्रतिशत तक गिर गए. नुकसान में रहने वाली अन्य कंपनियों में ओएनजीसी, मारुति सुजुकी, सन फार्मा, एचडीएफसी, हीरो मोटो कॉर्प, आईटीसी और एचसीएल टेक रहे. इनके शेयर 1.31 प्रतिशत तक की गिरावट देखने को मिली.

प्राइवेट सेक्‍टर के बंधन बैंक का 31 दिसंबर, 2018 को समाप्त तिमाही में शुद्ध लाभ 10.3 प्रतिशत बढ़कर 331.25 करोड़ रुपये हो गया है. पिछले साल की इसी तिमाही में बैंक का शुद्ध मुनाफा 300.04 करोड़ रुपये रहा था.  बंधन बैंक ने बृहस्पतिवार को शेयर बाजार को बताया कि अक्टूबर-दिसंबर, 2018 की अवधि में उसकी कुल आय भी बढ़कर 1,883.65 करोड़ रुपये हो गई. इससे पहले के साल में यह आंकड़ा 1,336.42 करोड़ रुपये था.

हालांकि, बैंक का शुद्ध एनपीए इस दौरान 0.80 प्रतिशत रहा.

इससे पहले फेडरल रिजर्व की बैठक की जानकारियां बाहर आने के

बाद अमेरिका में ब्याज दर वृद्धि को लेकर अनिश्चितता के कारण डॉलर के कमजोर

होने से बृहस्पतिवार को शुरुआती कारोबार में रुपया 14 पैसे मजबूत होकर 70.32 रुपये प्रति डॉलर पर पहुंच गया.

डीलरों ने कहा कि विदेशी बाजारों में डॉलर के नरम रहने, कच्चा तेल की कीमतें गिरने तथा

विदेशी निवेशकों के ताजे निवेश से रुपये को समर्थन मिला.

बता दें कि बुधवार को रुपया 25 पैसे कमजोर होकर 70.46 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था.