मंदिर के 150 साल पुराने रथ से 15 KG चांदी चोरी, अगले माह निकलनी है विशाल यात्रा

0
8

नई दिल्ली, जेएनएन। बदमाशों ने चांदनी चौक स्थित दिगंबर लाल जैन मंदिर के 150 साल पुराने ऐतिहासिक रथ पर चढ़ी 15 किलो चांदी चोरी कर ली। इस रथ को जामा मस्जिद इलाके में जगत सिनेमा के समीप एक गोदाम में रखा गया था। जुलूस के दौरान साल में दो बार इस रथ को निकाला जाता है।

इस रथ की जिम्मेवारी राजू नाम के ठेकेदार के पास थी। यह वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई है। सीसीटीवी फुटेज में ठेकेदार का बेटा और उसका एक दोस्त रथ से चांदी की परत निकालकर ले जाते दिख रहे हैं। जामा मस्जिद थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपितों की तलाश शुरू कर दी है। दोनों आरोपित फरार हैं।

गौरतलब है कि लाल किला के ठीक सामने प्राचीन दिगंबर लाल जैन मंदिर स्थित है। पुलिस के अनुसार, मंदिर के मैनेजर संतोष बाबू जैन ने रथ पर चढ़ी 15 किलो चांदी चोरी होने की सूचना पुलिस को दी थी। उन्होंने बताया कि उक्त रथ का प्रयोग साल में दो बार मार्च और नवंबर में जुलूस में किया जाता है। उसके गुंबद में कई किलो चांदी चढ़ी थी।

प्रयोग के बाद रथ को जामा मस्जिद इलाका स्थित गोदाम में रख दिया जाता है। वहां कई अन्य छोटे-बड़े रथ भी खड़े रहते हैं। इन रथों की देखरेख का जिम्मा राजू नाम के व्यक्ति को दिया गया है। मंदिर के पदाधिकारी जब 15 सितंबर को गोदाम में गए तो उन्होंने पाया कि रथ पर चढ़ी चांदी गायब है।

इसके बाद वहां लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की गई तो उसमें राजू का बेटा अंकुर और उसका साथी सौरभ रथ के गुंबद से चांदी चोरी करते दिख गए। वे दोनों भी रथ की देखरेख करते थे। इस घटना की शिकायत जामा मस्जिद थाने में दी गई है।

जैन मंदिर के सचिव सतीश जैन ने बताया कि इससे पहले भी गत महीने मंदिर से 15 किलो भार वाले चांदी के पंखे चोरी हो चुके हैं। इसमें भी आरोपितों का एक साथी शामिल था। इस मामले में कोतवाली थाना पुलिस एक को गिरफ्तार भी कर चुकी है। उसके पास से साढ़े सात किलो चांदी बरामद हो चुकी है। इसी बीच चोरी का यह दूसरा मामला सामने आया।