मध्य प्रदेश: लिफ्ट में तीसरी मंजिल पर 45 मिनट तक फंसी रही वृद्धा…..

0
1
mp news

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के होशंगाबाद रोड स्थित जाटखेड़ी में बनी फारचून कस्तुरी रेजीडेंसी
कॉलोनी में मंगलवार सुबह एक बुजुर्ग महिला तीसरी मंजिल पर लिफ्ट में फंस गई। इस दौरान लगातार
लिफ्ट का दरवाजा व आपाताकालीन घंटी बजाती रहीं लेकिन उनकी आवाज किसी ने नहीं सुनी। 45
मिनट बाद जब एक दूध वाला आया तो उसे लगा कि कोई लिफ्ट में फंसा है और लगातार मदद के
लिए पुकार रहा है। इसके बाद महिला को लिफ्ट से सुरक्षित निकाला गया।

महिला की हालत फिलहाल ठीक है। जानकारी के अनुसार फारचून कस्तुरी रेजीडेंसी की चौथी मंजिल
के ए- 1 402 नंबर के फ्लैट में किराए से रहने वाले नीतेश झा एक निजी कंपनी में काम करते हैं,
उनकी 65 वर्षीय मां आशा देवी झा मंगलवार सुबह सात बजे सुबह की सैर के बाद घर लौट रही थीं,
वह लिफ्ट से चौथी मंजिल पर जा रही थीं। इसी दौरान तीसरी मंजिल पर लिफ्ट फंस गई। नीतेश बताते
हैं कि लिफ्ट के कारण खतरा बना हुआ है। ऐसे में किसी के साथ भी ऐसी घटना हो सकती है, लेकिन
बिल्डर समीर गुप्ता मिलने का समय ही नहीं दे रहे हैं।

इस बिल्डिंग में करीब 200 परिवार रहते हैं, जबकि 340 फ्लैट हैं। रहवासी अजय सिंह का कहना है
कि कुल 11 ब्लॉक हैं और 16 लिफ्ट लगी हैं। लिफ्ट करीब सात साल पुरानी हो गई है। ऐसे में किसी
के साथ भी अनहोनी हो सकती है। इस संबंध में बिल्डर समीर गुप्ता ने कोई भी टिप्पणी करने से इन्कार
कर दिया।

गौरतलब कि 14 अगस्त को आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले के नंदीगमा (Nandigma) में रहने वाले
एक 45 वर्षीय शख्स की लिफ्ट में  चढ़ते हुए मृत्यु हो गई है। पुलिस के मुताबिक इस शख्स का
नाम रामीसेत्ती सत्यनारायण प्रसाद (Ramisetti Satyanarayana Prasad) है। नंदीगमा पुलिस
स्टेशन के असिस्टेंट सब-इंस्पेक्टर नागेश्वर राव ने न्यूज एजेंसी एएनआइ को बताया, “प्रसाद ने लिफ्ट
आने से पहले ही लिफ्ट का गेट खोल दिया और जैसे ही उन्होंने अंदर की तरफ अपना पैर आगे बढ़ाया
तो वो लिफ्ट के आगे गिर गए। इस कारण उनकी मृत्यु हो गई।”