मुख्यमंत्री की सख्तीः नमामि गंगे परियोजना में लापरवाही पर तीन निलंबित

0
10

मुरादाबाद के मुख्य अभियंता राजीव कुमार शर्मा को नमामि गंगे परियोजना में लापरवाही के मामले में निलंबित किया गया है। उन पर आरोप है कि जो परियोजना वर्ष 2014 में पूरी होनी थी वह अक्टूबर 2018 तक भी पूरी नहीं हो सकी। स्थिति का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि पिछले डेढ़ साल में इस परियोजना में केवल तीन फीसद ही काम हुआ। फरवरी 2017 तक यहां 82 फीसद काम पूरा हो चुका था लेकिन, अब तक केवल 85 फीसद काम ही पूरा हो सका है। आगरा जल निगम के महाप्रबंधक कृष्ण गोपाल सिंह को इसलिए निलंबित किया गया क्योंकि वंृदावन में नमामि गंगे परियोजना के एक प्रोजेक्ट में मार्च 2017 से लेकर अब तक पांच से छह बार टेंडर हो चुके हैं। इसके बावजूद इसमें कोई नहीं आया। यह टेंडर इस तरह से बनाया गया जिस कारण इससे फर्मों ने कोई रुचि नहीं दिखाई। इस पर मुख्यमंत्री ने कड़ी नाराजगी जताई है।

लखनऊ (जेएनएन)। उत्तर प्रदेश सरकार ने नमामि गंगे परियोजना में लापरवाही के मामले में जल निगम के मुख्य अभियंता सहित तीन अभियंताओं को निलंबित कर दिया है। इनमें आगरा जल निगम के महाप्रबंधक भी शामिल हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर इन अफसरों पर कार्रवाई की गई है।
मुरादाबाद के मुख्य अभियंता राजीव कुमार शर्मा को नमामि गंगे परियोजना में लापरवाही के मामले में निलंबित किया गया है। उन पर आरोप है कि जो परियोजना वर्ष 2014 में पूरी होनी थी वह अक्टूबर 2018 तक भी पूरी नहीं हो सकी। स्थिति का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि पिछले डेढ़ साल में इस परियोजना में केवल तीन फीसद ही काम हुआ। फरवरी 2017 तक यहां 82 फीसद काम पूरा हो चुका था लेकिन, अब तक केवल 85 फीसद काम ही पूरा हो सका है। आगरा जल निगम के महाप्रबंधक कृष्ण गोपाल सिंह को इसलिए निलंबित किया गया क्योंकि वंृदावन में नमामि गंगे परियोजना के एक प्रोजेक्ट में मार्च 2017 से लेकर अब तक पांच से छह बार टेंडर हो चुके हैं। इसके बावजूद इसमें कोई नहीं आया। यह टेंडर इस तरह से बनाया गया जिस कारण इससे फर्मों ने कोई रुचि नहीं दिखाई। इस पर मुख्यमंत्री ने कड़ी नाराजगी जताई है।