ये है क्रिकेट पर बनी पहली हिंदी फिल्म! इन 10 फिल्मों को भी खूब मिली है चर्चा

0
1

आईसीसी वर्ल्ड कप-2019 को लेकर दुनियाभर में क्रिकेट का खुमार देखने लायक है.

आईपीएल के बाद अब विश्व कप क्रिकेट को लेकर भारत में क्रिकेट का बुखार बना हुआ है.

30 मई से वर्ल्ड कप की शुरुआत होगी.

भारत का पहला मैच 5 जून को ईद पर दक्षिण अफ्रीका के साथ है.

क्रिकेट के प्रशंसक विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया की जीत की कामना कर रहे हैं.

भारत में क्रिकेट किसी धर्म से कम नहीं है.

शायद ही देश का कोई गली मोहल्ला, जाति मजहब हो, जहां क्रिकेट को लेकर दिलचस्पी दिखाई न दे.

शायद यही वजह रही है कि भारत में क्रिकेट के रोमांच को भुनाने के लिए समय समय पर कई फ़िल्में बनाई गई हैं.

इनमें कई फ़िल्में काफी हिट भी रही.

आइए जानते हैं क्रिकेट पर बेस्ड हिंदी में बनी कुछ चुनिंदा फिल्मों के बारे में.

1- लव मैरिज (1959)

इस फिल्म में देव आनंद ने एक क्रिकेटर की भूमिका निभाई है.

फिल्म में क्रिकेट की वजह से देव आनंद और माला सिन्हा के बीच प्यार की शुरुआत होती है.

फिल्म की शुरुआत भी क्रिकेट मैच से ही होती है.

सुनील कुमार (देव आनंद) अपने शहर झांसी में एक स्टार क्रिकेट खिलाड़ी है और अपने भाई के परिवार के साथ रहता है.

जल्द ही, सुनील मुंबई में नौकरी के लिए एक एक इंटरव्यू देता है और मुंबई में वो एक कमरा किराए पर लेता है.

उसके मकान मालिक की बेटी गीता (माला सिन्हा) शुरू में सुनील को नापसंद करती है, लेकिन उसे क्रिकेट खेलते देखकर प्यार कर लेती है.

वे जल्द ही शादी कर लेते हैं.

इसी के बाद फिल्म में कई ट्विस्ट आते हैं.

“लव मैरिज” को सुबोध मुखर्जी ने डायरेक्ट किया है.

लव मैरिज संभवत: संभवत: पहली फिल्म है जो क्रिकेट पर आधारित है.

2- ऑल राउंडर (1984)

मोहन कुमार ने इस फिल्म को डायरेक्ट किया है.

कुमार गौरव और रति अग्निहोत्री मुख्य भूमिका में हैं.

फिल्म की कहानी एक ऐसे क्रिकेटर की है, जिसे कॉन्ट्रोवर्सी में फंसा दिया जाता है.

इससे उसके स्पोर्ट्स करियर को भी बेहद नुकसान पहुंचता है.

लेकिन बाद में वो अपनी छवि को सुधारने के लिए कसम खाता है.

3- अव्वल नंबर (1990)

देव आनंद का क्रिकेट से प्रेम छिपा नहीं है.

क्रिकेट सेंट्रिक फिल्म अव्वल नंबर को देव आनंद ने डायरेक्ट किया था.

फिल्म की स्टोरी क्रिकेट करियर के इर्द-गिर्द घूमती है.

फिल्म में आदित्य पंचोली और आमिर खान मुख्य भूमिकाओं में थे.

ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर चल नहीं पाई, लेकिन इसने निश्चित रूप से इंडस्ट्री के लिए एक बेंचमार्क सेट कर दिया था.

4- लगान (2001)

लगान एक एपिक स्पोर्ट ड्रामा फिल्म है.

इस फिल्म को खूब पसंद किया गया था.

फिल्म को ऑस्कर के लिए चुना गया था.

लगान की पूरी कहानी एक क्रिकेट मैच पर आधारित फिल्म है.

इस फिल्म का क्रेज आज भी है.

आमिर खान की एक्टिंग को भी इसमें खूब पसंद किया गया था.

ये फिल्म आजादी से पहले अंग्रेजों द्वारा किए गए अत्याचारों और भारतीय नागरिकों के संघर्ष और बलिदान को बयां करती है.

आशुतोष गवारिकर ने इसे डायरेक्ट किया था.

5- इकबाल (2005)

इकबाल एक बहरे और गूंगे युवा की कहानी है, जिसमें भारतीय क्रिकेट टीम के लिए खेलने का जुनून था.

इस फिल्म में श्रेयस तलपड़े, श्वेता बासु प्रसाद और नसीरुद्दीन शाह जैसे स्टार्स हैं.

नागेश कुकुनूर ने इसे डायरेक्ट किया है.

फिल्म की शानदार स्टोरी लाइन, मूविंग परफॉरमेंस और जबरदस्त साउंडट्रैक फिल्म की खासियत है.

दर्शकों को ये फिल्म बेहद पसंद आई थी.

6- चैन कुली की मैन कुली (2007)

चैन कुली की मैन कुली एक स्पोर्ट्स कॉमेडी ड्रामा फिल्म है.

इसका निर्देशन किट्टू सलूजा ने किया है. फिल्म में राहुल बोस, जैन खान मुख्य भूमिका में हैं.

क्रिकेटर कपिल देव ने भी इस फिल्म में स्पेशल अपीरियंस दी है.

हालांकि, इस फिल्म के बॉक्स ऑफिस पर अच्छा रिस्पॉन्स नहीं मिला था.

7- जन्नत (2008)

इस फिल्म को कुणाल देशमुख ने डायरेक्ट किया था.

भट्ट कैंप की फिल्म जन्नत में  सोनल चौहान और इमरान हाशमी लीड कैरेक्टर में थे.

इस फिल्म ने सोनल चैहान को रातोंरात स्टार बना दिया था.

फिल्म की कहानी मैच फिक्सिंग पर केंद्रित है.

ये फिल्म पिछले कुछ दशकों से क्रिकेट को प्रभावित करने वाले डार्क सीक्रेट को उजागर करने का प्रयास करती है.

8- विक्ट्री (2009)

ये क्रिकेट पर आधारित फिल्म है.

इसमें हरमन बावेजा, अमृता राव और अनुपम खेर जैसे सितारे हैं.

बॉक्स ऑफिस पर फिल्म बुरी तरह फ्लॉप हुई थी.

ये एक स्ट्रलिंग क्रिकेटर की कहानी है जो लगभग असंभव सपने को साकार करने के लिए सभी बाधाओं से निपटता है.

अजीत पाल मंगत ने इसे डायरेक्ट किया था.

9- पटियाला हाउस (2011)

अक्षय कुमार, ऋषि कपूर और डिंपल कपाड़िया और अनुष्का शर्मा स्टारर फिल्म पटियाला हाउस इंग्लैंड में भारतीय मूल के क्रिकेटरों का एक अलग साइड प्रेजेंट करती है.

निखिल आडवाणी ने इसका निर्देशन किया है.

फिल्म में क्रिकेट के लिए जुनून को दिखाया गया है.

मूवी बॉक्स ऑफिस खास प्रदर्शन नहीं कर पाई थी.

10- फरारी की सवारी (2012)

राजेश मापुस्कर के निर्देशन में बनी फिल्म फरारी की सवारी स्पोर्ट्स ड्रामा फिल्म है.

फिल्म में शरमन जोशी और बोमन ईरानी मुख्य भूमिका में हैं.

फिल्म की कहानी एक ऐसे पिता की है जो अपने बेटे क्रिकेट के सपने को पूरा करने के लिए सबकुछ करने को तैयार होता है.

इसके अलावा महेंद्र सिंह धोनी की बायोपिक, दिल बोले हडिप्पा और अजहर जैसी फिल्में भी क्रिकेट पर बेस्ड हैं.

क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर पर भी एक डॉक्यूमेंट्री भी बनाई गई है, जिसे बहुत सक्सेस मिली थी.