रविशंकर बनाम शत्रुघ्न-ये जो दुश्मन, वो दोस्तों से भी प्यारा है, जानिए ….

0
0

मौजूदा लोकसभा चुनाव की शुरुआत से ही पश्चिम बंगाल में सियासी आक्रामकता, कट्टरता और नेताओं की बदजुबानी से

अगर आप सचमुच तंग आ गए हैं तो पटना साहिब चले आइए। यहां आपको चुनाव जीतने के सियासी दांव-पेच तो दिख

सकते हैं, लेकिन सियासी शालीनता और भाषा का अनुशासन कहीं से भी टूटता नजर नहीं आएगा।

पटना साहिब में 19 मई को मतदान है। यह चुनाव का आखिरी दौर बेशक है, लेकिन दो राष्ट्रीय दलों की प्रतिद्वंद्विता

के बीच प्रत्याशियों में घमासान का नया अंदाज भी है।

सदियों पहले दुनिया को सबसे पहले लोकतंत्र का पाठ पढ़ाने वाली वैशाली के बगल के संसदीय क्षेत्र में दो राष्ट्रीय

पार्टियों में आरपार की लड़ाई है।

भाजपा की ओर से केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद हैं तो कांग्रेस की ओर से फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा।