राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने विधानसभा में किया जय श्रीराम का घोष Jaipur News ..

0
3
ashok gehlot

करीब सात माह पूर्व राज्य की सत्ता हासिल करने के बाद से ही सॉफ्ट हिंदुत्व के एजेंडे पर चल रहे राजस्थान
के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को राज्य विधानसभा में जय श्रीराम का घोष किया। वित्त एवं विनियोग
विधेयक पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए गहलोत ने भाजपा विधायकों की तरफ इशारा करते हुए जय श्रीराम-
जय श्रीराम का दो बार घोष किया। उन्होंने कहा कि मैं उन पर कब्जा नहीं कर रहा हूं।

गहलोत ने कहा कि जय श्रीराम बोलने से सब खुश हुए, लेकिन दुर्भाग्य की बात यह है कि भाजपा वाले
जय श्रीराम के नारे और नाम पर कब्जा कर लेते हैं। जय श्रीराम का नाम मर्यादा पुरुषोतम का नाम है।
अगर उनके नाम को भी इस रूप में लें कि लोगों में अशांति, गुस्सा पैदा हो तो यह अच्छी बात नहीं है।
कोई अल्लाह हो अकबर बोल जाए और कोई एतराज करे, कोई कहे कि जबरदस्ती बोलना पड़ेगा तो यह
गलत है। उन्होंने कहा कि अगर जय श्रीराम बोलने को लेकर हम यह माहौल पैदा करेंगे तो यह देश
कहां जाएगा।

भाजपा विधायकों की तरफ इशारा करते हुए सीएम ने कहा कि आप लोग महात्मा गांधी, सरदार पटेल और
डॉ. भीमराव आंबेडकर पर भी कब्जा कर रहे हो। सीएम ने प्रदेश में अच्छी बारिश के लिए सभी को बधाई
देते हुए कहा कि इंद्रदेव की बड़ी कृपा हुई है, नहीं तो भाजपा के लोग कहते थे कि अशोक गहलोत और
अकाल एक साथ आते हैं।

गहलोत ने कहा कि वर्तमान में देश में जो माहौल बना हुआ है, वह चिंता का विषय है। देश में सिर्फ दो
लोग राज कर रहे हैं। लोकसभा चुनाव में देश और प्रदेश में भाजपा को भारी बहुमत मिला, लेकिन भाजपा
वालों के चेहरों पर भी खुशी नहीं है। सीएम ने प्रदेश के 48 स्मारकों और पैनोरमा के रख-रखाव के लिए
एक करोड़ रुपये के बजट की घोषणा की। 50-50 लाख की लागत से दो नए पैनोरमा बनाने की भी घोषणा
की।