विश्व डाक दिवस 2019 : जानिए 178 साल पहले जारी किए गए सबसे पहले डाक टिकट का क्या था नाम ?

0
0

आज विश्व डाक दिवस है। हर साल 9 अक्टूबर को देश में विश्व डाक दिवस मनाया जाता है। विश्व डाक
दिवस ‘यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन’ के गठन के लिए 9 अक्टूबर 1874 को स्विटजरलैंड में 22 देशों ने एक
संधि की थी। उसके बाद से हर साल 9 अक्टूबर को विश्व डाक दिवस के तौर पर मनाया जाता है। भारत
एक जुलाई 1876 को ‘यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन’ का सदस्य बना था।

एक समय था जब डाक एक बहुत बड़ी जरूरत थी मगर बदलते समय के बाद अब इसकी महत्ता थोड़ी कम
हुई है। एक बात और भी है कि आज के समय में भी डाक टिकटों के शौकीन लोग मौजूद है जिन्होंने हर तरह
का डाक टिकट संग्रह करके अपने पास रखा हुआ है। डाक टिकटों से ही जुड़ी हुआ फ़िलाटेली यानी डाक-
टिकट जमा एवं उसका अध्यन करने का शौक भी है। दुनिया में कई लोग इसके संग्रह में दिलचस्‍पी रखते हैं।
सरकार हर महत्वपूर्ण अवसर पर डाक टिकट जारी करती है।

क्या आपको पता है कि दुनिया का पहला डाक टिकट कब जारी किया गया था, यदि आप नहीं जानते हैं तो
हम आपको इसके बारे में बता रहे हैं। दुनिया का पहला डाक टिकट 178 साल पहले जारी किया गया था।
हालांकि, इसका पहला इस्तेमाल 6 मई 1840 को किया गया था। इस डाक टिकट का नाम था ब्लैक पेनी
था। ये डाक टिकट ब्रिटेन में जारी किया गया था।