शायरी

0
0

वफ़ा करने से मुकर गया है ♥️ दिल;
अब प्यार करने से डर गया है ? दिल;
अब किसी सहारे की बात ?️ मत करना;
झूठे दिलासों से भर गया है अब यह दिल ??