शेरो -शायरी

0
2

हम उनसे तो लड़ लेंगे,

जो खुले आम दुश्मनी करते हैं,

लेकिन उनका क्या करे,

जो लोग मुस्कुरा के दर्द देते हैं…!