श्रीलंका गए JDS के 7 कार्यकर्ता लापता, धमाकों में 2 की मौत की पुष्टि

0
3

एचडी कुमारस्वामी ने लिखा कि 20 अप्रैल को जेडीएस के सात कार्यकर्ता कोलंबो गए थे, लेकिन वह अभी तक लापता हैं. श्रीलंका में मौजूद भारतीय उच्चायोग ने दो कार्यकर्ताओं की मौत की पुष्टि भी कर दी है.

पड़ोसी मुल्क श्रीलंका में हुए आतंकी हमले से हर कोई दहल उठा है. मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है, वहीं कई भारतीय भी हैं जो श्रीलंका में फंसे हुए हैं. कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी. कुमारस्वामी ने सोमवार को ट्वीट कर बताया कि उनकी पार्टी जनता दल (सेक्यूलर) के 7 कार्यकर्ता कोलंबो में फंसे हुए थे, इनमें से दो की मौत हो गई है. उन्होंने इसको लेकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से भी शिकायत दर्ज कराई है.

कुमारस्वामी ने लिखा कि 20 अप्रैल को जेडीएस के सात कार्यकर्ता कोलंबो गए थे,

लेकिन वह अभी तक लापता हैं. श्रीलंका में मौजूद भारतीय उच्चायोग ने दो कार्यकर्ताओं की मौत की पुष्टि भी कर दी है.

कर्नाटक सीएम का कहना है कि उन्होंने इस मुद्दे पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से बात की है

और बाकी 5 कार्यकर्ताओं की तलाश जारी है.

उन्होंने कहा कि सुषमा स्वराज ने केजी हनुमानथरप्पा, एम. रंगप्पा की मौत की पुष्टि भी कर दी है.

कुमारस्वामी ने लिखा कि वह उन दोनों कार्यकर्ताओं को व्यक्तिगत तौर पर जानते थे.

ये सभी 7 कार्यकर्ता 18 अप्रैल को दूसरे चरण के लिए हुए मतदान के बाद 20 अप्रैल को छुट्टी मनाने श्रीलंका गए थे.

ये सभी शंगरीला होटल में रुके हुए थे, जिसमें बम धमाके हुए थे.

हालांकि, तुमकुर और चिकबलपुर की पुलिस का कहना है कि अभी तक परिवार की

तरफ से लापता होने की कोई खबर नहीं मिली है.

आपको बता दें कि श्रीलंका में रविवार को करीब 8 जगहों पर बम धमाके हुए थे,

इस हमले में मरने वालों की संख्या अभी तक 290 पहुंच गई है.

जबकि 450 से अधिक लोग घायल बताए जा रहे हैं. इस हमले में 4 भारतीयों की भी मौत हुई है.

घटना के बाद से ही पूरे देश में कर्फ्यू लगा हुआ है, वहीं पुलिस लगातार तलाशी कर रही है.

अभी तक करीब 24 संदिग्धों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है.