श्रीलंका: छापेमारी के दौरान आतंकी ने खुद को उड़ाया, 6 बच्चों समेत 15 की मौत, 4 संदिग्ध भी ढेर ….

0
0

श्रीलंका की राजधानी कोलंबो समेत कई जहगों पर हुए सीरियल ब्‍लास्‍ट के बाद सुरक्षाबलों की तरफ से देशभर में छापेमारी

की जा रही है। संदिग्धों को पकड़ने के लिए सुरक्षा एजेंसियां लगातार छापेमारी कर रहीं है। इसी कड़ी में श्रीलंकाई सुरक्षाबलों

बड़ी कामयाबी मिली है। बताया जा रहा है कि सुरक्षाबलों ने 4 संदिग्ध आतंकियों को मार गिराया है। माना जा रहा है कि ये

संदिग्ध आतंकी देश में और धमाकों को अंजाम देने की फिराक में थे।

बता दें कि शुक्रवार शाम कोलंबो से 325 किमी दूर समंथुरई में हुई छापामारी के दौरान सुरक्षाबलों की सशस्त्र हमलावरों से

मुठभेड़ हुई। सुरक्षाबलों से मुठभेड़ के दौरान आत्मघाती हमलावरों ने खुद को उड़ा लिया, जिसमें छह बच्चों और तीन

मार गिराया है। माना जा रहा है कि यहां छिपे आतंकियों का संबंध रविवार को हुए धमाकों से था।

सुरक्षाबल लगातार स्थानीय इस्लामी आतंकी समूह नेशनल तौहीद जमात (NTJ) के आतंकियों को पहकड़ने के लिए छापेमारी

कर रहे हैं। पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि इस धमाके के बाद कुल 15 शव बरामद हुए है, जिनमे 6 पुरुष, तीन

महिलाएं और 6 बच्चे भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि साथ ही चार संदिग्ध आत्मघाती हमलावर मारे गए है और तीन अन्य

घायल हुए है।

वहीं, शुक्रवार रात सुरक्षा परिषद की बैठक में यह निर्णय लिया गया कि चरमपंथी आतंकवाद पर नकेल कसने के लिए

तलाशी अभियान तब तक जारी रहना चाहिए जब तक कि खतरा पूरी तरह से समाप्त न हो जाए।

श्रीलंका पुलिस देशभर में 140 लोगों को ट्रैक करने की कोशिश कर रही है, जिनका संबंध इस्लामिक स्टेट के साथ है।

पुलिस ने अपनी जांच में अब तक सीरिया और मिस्र के विदेशियों सहित लगभग 76 लोगों को हिरासत में लिया है। बता

दें कि इस्लामिक स्टेट ने श्रीलंका में हुए सिलसिलेवार धममाकों की जिम्मेदारी ली है, लोकिन अपने दावे के पीछे आतंकी

संगठन ने कोई सबूत नहीं दिया है। अगर यह सच है, तो यह इराक और सीरिया के बाहर इस्लामिक स्टेट द्वारा किया गया

यह सबसे बड़े हमलों में से एक होगा।

गौरतलब है कि रविवार को हुए आठ बम धमाके हुए थे, जिसमें ढाई सौ से अधिक लोगों की मौत हो गई थी और इसमें पांच

सौ से अधिक लोग घायल हो गए। इसके बाद श्रीलंका में हर रोज संदिग्धों की गिरफ्तारी हो रही है और भारी मात्रा में

विस्फोटक बरामद किए जा रहे हैं।