सरफराज अहमद ने पाकिस्तानी क्रिकेट फैंस से लगाई गुहार, बोले- इतिहास बनते देखने आना

0
3

पाकिस्तान की क्रिकेट टीम दस साल के बाद द्विपक्षीय अंतरराष्ट्रीय वनडे मैच की मेजबानी करने जा रही है। साल 2009 में श्रीलंकाई टीम पर लाहौर में हुए आतंकी हमले के बाद किसी भी देश ने पाकिस्तान में जाकर वनडे सीरीज खेलने की हिम्मत नहीं दिखाई। अब वही श्रीलंकाई टीम पाकिस्तान में वनडे सीरीज खेलने उतरेगी, जिस पर हमला हुआ था।

एक लंबे अरसे बाद कराची में हो रहे वनडे इंटरनेशल मैच से पहले पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने अपने देश के क्रिकेट फैंस से गुहार लगाई है कि वे बड़ी संख्या में पाकिस्तान में इतिहास बनते देखने के लिए स्टेडियम में आएं। तीन मैचों की ये वनडे सीरीज कराची में 27 सितंबर से शुरू हो रही है। सीरीज के तीनों मुकाबले कराची में ही खेले जाएंगे।

कराची में साल 2009 में हुआ था आखिरी वनडे

दिलचस्प बात ये है कि साल 2009 से कराची में कोई भी वनडे इंटरनेशनल मैच नहीं हुआ है, जिस पर सरफराज अहमद ने कहा है, “शुक्रवार(27 सितंबर 2019) को इतिहास बनेगा जब कराची दस साल बाद वनडे मैच की मेजबानी करेगा। मैं पाकिस्तान क्रिकेट के सभी फैंस से गुजारिश करता हूं कि वे इतिहास को बनते देखने के लिए बड़ी संख्या में नेशनल स्टेडियम में पहुंचे।”

बाबर आजम बोले- मेरे लिए होगा बड़ा दिन

कप्तान सरफराज अहमद ने कहा, “मैं शुक्रवार का इतंजार नहीं कर सकता, जो यादगार लम्हा होगा। मैं उम्मीद करता हूं कि पूरा स्टेडियम भरा होगा जो हमें ही नहीं, बल्कि दोनों टीमों को चीयर्स करेंगे।” वहीं, पाकिस्तान टीम के उपकप्तान बाबर आजम ने कहा है कि पहले वनडे मैच में मेरे सामने जब घरेलू दर्शक होंगे तो वो मेरे लिए सबसे बड़े दिनों में से एक होगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here