स्टीव स्मिथ को क्यों मिल जानी चाहिए ऑस्ट्रेलियाई टीम की कप्तानी..

0
0
स्टीव स्मिथ को क्यों मिल जानी चाहिए ऑस्ट्रेलियाई टीम की कप्तानी

दक्षिण अफ्रीका में गेंद से छेड़छाड़ की घटना को लगभग तीन साल होने को हैं, जिसने क्रिकेट की दुनिया को हिलाकर रख दिया है। इस घटना के दोषियों – स्टीव स्मिथ, डेविड वार्नर और कैमरोन बैनक्रॉफ्ट को (स्मिथ और वार्नर के लिए 12 महीने का प्रतिबंध, बैनक्रॉफ्ट के लिए 9 महीने का प्रतिबंध) बैन किया गया था, लेकिन तीनों की सम्मान के साथ वापसी भी हो गई। यहां तक कि स्टीव स्मिथ पर लगा दो साल कप्तानी का बैन भी समाप्त हो हया है। अब क्रिकेट की दुनिया आगे बढ़ गई है और स्मिथ और वार्नर एक बार फिर ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम का अभिन्न हिस्सा बन गए हैं।

स्मिथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पिछले एक साल से बल्ले से शानदार फॉर्म में हैं। इसलिए सवाल क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को घेरे में रख रहा है – क्या स्मिथ को कप्तानी का हाथ वापस देने का समय आ गया है? इस पर इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने भी अपनी राय रखी है और कहा कि स्टीव स्मिथ की टी20 फॉर्म उतनी अच्छी नहीं है तो कम से कम उनको टेस्ट और वनडे क्रिकेट में टीम का कप्तान बनाया जाना चाहिए और उनका उपयोग करना चाहिए। वॉन ने क्रिकबज से बात करते हुए, “टी 20 क्रिकेट एक प्रारूप है, जिसमें स्टीव स्मिथ का फॉर्म नहीं है, जहां वह हर समय टीम में बने रहने की मांग करते हैं।”

वॉन ने आगे कहा है, “टी20 क्रिकेट को छोड़ दें, लेकिन अगर टेस्ट क्रिकेट में या 50 ओवर के खेल
में टिम पेन या आरोन फिंच में से कोई नहीं है तो उस मौके पर निश्चित रूप से स्टीव स्मिथ को कप्तानी करनी चाहिए।
टिम पेन अगले साल के एशेज में ऑस्ट्रेलिया का नेतृत्व करेंगे, लेकिन अगर पेन या फिंच चोटिल होते हैं,
तो मेरे मन में कोई सवाल नहीं है कि स्टीव स्मिथ को कप्तान के रूप में नामित किया जाए।
केपटाउन की स्थिति के कारण उसे बाहर रखना जो कई वर्षों पहले हुआ था – मुझे यह समझ में नहीं आता।”
उन्होंने आगे कहा, “वह ऐसा व्यक्ति नहीं है, जिसकी कप्तानी में उसकी बल्लेबाजी प्रभावित हो।
यह पता लगाने के बारे में है कि टीम में कौन बेहतर लीडर है, कौन बेहतर रणनीति बना सकता है,
जो बीच में एक
सामरिक बदलाव के साथ ऑस्ट्रेलिया की मदद कर सकता है। मुझे लगता है कि स्टीव
स्मिथ शायद ऐसा करने में सक्षम हैं।
बेशक, हर कोई बॉल टैंपरिंग की घटना से आगे बढ़ गया है – हम सभी इसे भूल गए हैं।
खेल वास्तव में तेजी से आगे बढ़ता है। अगर वनडे या टेस्ट में मौका मिलता है,
तो स्टीव स्मिथ निश्चित रूप से ऑस्ट्रेलिया के कप्तान होने चाहिए।”