स्वदेश लौटने से पहले कोहली नहीं चले

0
1

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क का मानना है कि अगर टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने स्वदेश वापस लौटने से पहले वनडे और टी-20 क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करना होगा। अगर ऐसा नहीं हुआ तो टीम टेस्ट सीरीज 4-0 से गंवा सकती है। गौरतलब है कि 32 साल के कोहली को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने पैटरनिटी लीव दी है। वह पिता बनने वाले हैं। इसके चलते वह पहले टेस्ट के बाद भारत वापस लौट आएंगे। वह सीमित ओवरों के पारूप में खेलते नजर आएंगे। इसके अलावा वह पहले टेस्ट में भी खेलेंगे।

माइकल क्लार्क ने कहा कि कोहली को वनडे और टी-20 में फ्रंट से लीड करना होगा। उनके हिसाब से अगर टीम इंडिया ने वनडे और टी-20 में खराब प्रदर्शन किया तो टेस्ट मैचों में उन्हें काफी दिक्कत होगी और टीम 4-0 से सीरीज हार सकती है। उन्होंने कहा कि कोहली केवल एक टेस्ट मैच खेलेंगे, लेकिन फिर भी वह टेस्ट मैचों के नतीजों पर असर डाल सकते हैं। ऐसा तब होगा जब वह सीमित ओवरों के पारूप में हावी रहने में कामयाब होंगे।

गौरतलब है कि भारतीय टीम के दौरे की शुरुआत 27 नवंबर से वनडे सीरीज के साथ होगी।
पूर्व विश्व कप विजेता कप्तान ने कहा कि जसप्रीत बुमराह भी सीरीज में बड़ी भूमिका निभाएंगे।
उन्होंने कहा कि कंगारू टीम पर दबाव डालने के लिए इस तेज गेंदबाज को अक्रामक गेंदबाजी करनी होगी।
इस तेज गेंदबाज में
डेविड वार्नर और स्टीव स्मिथ को परेशान करने की क्षमता है। उन्होंने कहा कि टीम इंडिया को अगर जीतना है
तो कोहली और बुमराह को अक्रामक होना होगा। भारत ने 2018-19 में ऑस्ट्रेलियाई धरती पर पहली बार टेस्ट
सीरीज जीतकर इतिहास रच दिया था। हालांकि, मेजबान टीम स्टार बल्लेबाज वार्नर और स्मिथ के बिना खेली थी।
दोनों पर 2018 में बॉल टेम्परिंग विवाद की वजह से बैन लगा था।