हंगामेदार रहा सिग्नेचर ब्रिज का उद्घाटन, अमानतुल्लाह खान ने मनोज तिवारी को दिया धक्का…..

0
7

नई दिल्ली,  सिग्नेचर ब्रिज के उद्घाटन समारोह के दौरान ‘आप’ और भाजपा के बीच जमकर सियासत हुई। उद्घाटन स्थल पर उस वक्त हंगामा हो गया, जब स्थानीय सांसद मनोज तिवारी के पहुंचने पर ‘आप’ और भाजपा कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। इस दौरान भाजपा और ‘आप’ के कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे के खिलाफ नारेबाजी भी की।

उद्घाटन स्थल पर ‘आप’ विधायक अमानतुल्लाह खान ने दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी के साथ धक्का-मुक्की भी की। मनोज तिवारी ने जहां आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं और पुलिस पर धक्का-मुक्की और बदसलूकी का आरोप लगाया है, तो वहीं ‘आप’ ने तिवारी और उनके समर्थकों पर मारपीट और हुड़दंग का आरोप लगाया है।

रद होनी चाहिए खान की जमानत
पूरे मामले पर मनोज तिवारी का कहना है कि आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान ने मुझे धक्का दिया। यह पूरी घटना दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीलवाल की मौजूदगी में घटी। मैं इस घटना को लेकर एफआइआर दर्ज कराने जा रहा हूं। खान की जमानत तुरंत रद होनी चाहिए।

उद्घाटन कार्यक्रम में हंगामे के दौरान मनोज तिवारी ने कहा कि मुझे उद्घाटन समारोह में आमंत्रित किया गया था। मैं यहां से सांसद हूं। ऐसे में समस्या क्या है? क्या मैं एक अपराधी हूं? पुलिस ने मुझे क्यों घेर लिया? मैं यहां उनका (अरविंद केजरीवाल का) स्वागत करने के लिए हूं। ‘आप’ समर्थकों और पुलिस ने मेरे साथ दुर्व्यवहार किया है। भाजपा नेता ने कहा कि ‘मैंने ब्रिज के निर्माण को दोबारा शुरू कराया था और अब अरविंद केजरीवाल उद्घाटन समारोह आयोजित कर रहे हैं।’ मनोज तिवारी के पहुंचने के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने जय-जय मोदी, हर-हर मोदी के नारे लगाए तो वहीं आम आदमी पार्टी के समर्थकों केजरीवाल जिन्दाबाद के नारे लगाए।
दरअसल, मनोज तिवारी के उद्घाटन स्थल पहुंचने के थोड़ी देर बाद हंगामा शुरू हो गया। तिवारी के समर्थकों और ‘आप’ कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई। मौके पर मौजूद पुलिस ने स्थिति को संभालने का काम किया। हालांकि तिवारी का कहना है कि उन्हें उद्घाटन समारोह के लिए न्योता मिला है। हंगामे के बाद मनोज तिवारी ने कहा, ‘पुलिस के जिन लोगों ने मुझसे धक्का-मुक्की की है, उनकी शिनाख्त (पहचान) हो गई है। मैं इन सबको पहचान चुका हूं और 4 दिन में इनको बताऊंगा कि पुलिस क्या होती है।’
आम आदमी पार्टी के नेता दिलीप पांडेय ने कहा कि तिवारी बिना न्योते के उद्घाटन स्थल पर पहुंच गए और हंगामा किया। पांडेय ने कहा, ‘यहां हजारों लोग जुटे हैं, जो बिना किसी न्योते के आए हैं और इस जश्न में शामिल हो रहे हैं। लेकिन सांसद (मनोज तिवारी) खुद को वीआईपी समझ रहे हैं। वह हुड़दंग कर रहे हैं।