Budget 2019: PM मोदी की पहली प्रतिक्रिया- यह गरीब शक्ति

0
1

पीएम ने कहा, ‘यह बजट गरीब को शक्ति देगा, किसान को मज़बूती देगा, अर्थव्यवस्था को नया बल देगा…’ इसके अलावा उन्होंने कहा, ‘पीएम किसान निधि उन किसानों की मदद करेगी जिनके पास 5 एकड़ से कम भूमि है. यह योजना किसान कल्याण के मार्ग में एक ऐतिहासिक कदम है.

नई दिल्ली: 

केंद्रीय वित्त मंत्रीपीयूष गोयल (Piyush Goyal) के संसद में अंतरिम बजट (Budget 2019) पेश किए जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने बजट की तारीफ की. पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार की योजनाओं ने देश के हर व्यक्ति के जीवन पर सकारात्मक प्रभाव डाला है .

बजट की बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि 12 करोड़ से ज्यादा किसान और उनके परिवार, 3 करोड़ से ज्यादा सैलरी वाले कामगारों को इस बजट से फायदा मिलेगा.

इस बजट में हाउसिंग से लेकर हेल्थ तक सभी तरह के मुद्दों को शामिल किया गया है.

साथ ही पीएम ने कहा कि मैं मध्य वर्ग के लोगों को टैक्स माफी के लिए बधाई देना चाहता हूं.

इस बजट में किसान उन्नति से लेकर, कारोबारियों की प्रगति तक, इनकम टैक्स से

लेकर इंफ्रास्ट्रक्चर तक, हाउसिंग से लेकर हेल्थ केयर तक, इकोनॉमी को

नई गति से लेकर न्यू इंडिया के निर्णाण तक, सभी का ध्यान रखा गया है.

पीएम मोदी ने साथ ही कहा, ‘देश का एक बहुत बड़ा वर्ग आज

अपने सपनें साकार करने में और देश के विकास को गति देने में लगा हुआ है.

उनके लिए सरकार ने अपनी प्रतिबद्धता दोहराई है.

इस बजट से 3 करोड़ से ज्यादा मध्यम वर्ग के टैक्स देने वालों को और 30-40 करोड़ श्रमिकों को सीधा लाभ मिलना तय हुआ है.

सरकार के प्रयासों से आज देश में गरीबी रिकॉर्ड गति से कम हो रही है.

देश का एक बहुत बड़ा वर्ग आज अपने सपनें साकार करने में और देश के विकास को गति देने में लगा हुआ है.

उनके लिए सरकार ने अपनी प्रतिबद्धता दोहराई है.

देश में बढ़ते मीडिल क्लास की आशा-आक्षांका को कुछ हौसला मिले, इसके लिए हमारी सरकार ने अपनी प्रतिबद्धता दिखाई है.

मैं मीडिल क्लास को इनकम टैक्स में मिली छूट के लिए बधाई देता हूं.

साथ ही पीएम ने कहा, ‘यह बजट गरीब को शक्ति देगा, किसान को मज़बूती देगा, अर्थव्यवस्था को नया बल देगा…’ इसके अलावा उन्होंने कहा, ‘पीएम किसान निधि उन किसानों की मदद करेगी जिनके पास 5 एकड़ से कम भूमि है.

यह योजना किसान कल्याण के मार्ग में एक ऐतिहासिक कदम है.

हमारा पूरा प्रयास है कि किसानों को सशक्त करके उन्हें वे संसाधन दें, जिनसे वे अपनी आय दोगुनी कर सकें.’