Cyclone Vayu के बेअसर होने का दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत पर ऐसे पड़ रहा असर …

0
2

Weather alert in Delhi and NCR: दिल्ली-एनसीआर के साथ पूरे उत्तर भारत में भीषण गर्मी और गर्म हवाओं ने

लोगों की दिनचर्या तक प्रभावित कर दी है।

पिछले 2-3 दिन के दौरान गर्मी बढ़ने के पीछे चक्रवात वायु (Cyclone vayu) का बेअसर होना बताया जा रहा है।

मौसम विज्ञानियों के मुताबिक, अरब सागर में उठा चक्रवात वायु गुजरात को नुकसान पहुंचाए बिना ओमान की ओर

बढ़ गया है, जिसके चलते मौसमी परिस्थितियों पर बेहद प्रतिकूल असर पड़ा है।

दिल्ली के साथ एनसीआर के इलाकों की बात करें तो चक्रवात वायु के बेअसर होने से यहां पर न तो ठंडी हवाएं चलीं

और पश्चिमी विक्षोभ प्रभावी हो पाया।

इसके चलते जहां दिल्ली के सफदरजंग में 44 डिग्री सेल्सियस के आसपास पहुंच गया तो पालम इलाके में 45 डिग्री के पास।

वहीं, भारतीय मौसम विभाग (INDIA METEOROLOGICAL DEPARTMENT) के मुताबिक, शनिवार को दिनभर भीषण

गर्मी लोगों को परेशानी करेगी, लेकिन देर शाम धूल भरी आंधी चल सकती है।

मौसम विभाग के मुताबिक, शनिवार को आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे।

शाम के समय 30 से 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी आंधी चल सकती है तो गर्जन वाले बादल बनने

के भी आसार हैं।

उधर, स्काईमेट वेदर के मुख्य मौसम विज्ञानी महेश पलावत ने बताया कि जम्मू-कश्मीर में एक नया पश्चिमी विक्षोभ

सक्रिय होने जा रहा है।

इसका प्रभाव पहाड़ी इलाकों के साथ-साथ दिल्ली तक रहेगा।

इसके परिणामस्वरूप रविवार और सोमवार को हल्की बारिश की संभावना है।

स्काइमेट वेदर के मौसम वैज्ञानिक महेश पलावत ने बताया कि 17 और 18 जून को बारिश की तीव्रता बढ़ने की उम्मीद है,

क्योंकि वायु 48 घंटे के बाद उत्तर पश्चिम दिशा की ओर फिर से चलेगा।

18 जून को कच्छ पहुंचने के साथ इसके तीव्र रूप में बदलने की संभावना है।

इससे दिल्ली-एनसीआर के लोगों को एक बार फिर से भीषण गर्मी से हल्की राहत मिल सकती है।

वहीं, मौसम विभाग का अनुमान है कि आज दिल्ली-एनसीआर में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे।

कई इलाकों में बारिश या गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं।

न्यूनतम तापमान में गिरावट आ सकती है।

आज यह 43 डिग्री के आसपास रह सकता है।