IND vs WI: अजहर को ईडन गार्डंस पर ‘खास सम्‍मान’ देने से गौतम गंभीर खफा, बोले-यह BCCI की हार

0
4

ईडन गार्डंस सहित भारत के दूसरे क्रिकेट मैदानों में इंटरनेशनल मैच के पहले घंटी बजाकर मैच की शुरुआत करने का चलन आम है. किसी पूर्व क्रिकेटर को यह सम्‍मान दिया जाता है.

नई दिल्‍ली: भारत और वेस्‍टइंडीज (India vs West Indies) के बीच रविवार को कोलकाता में खेले गए पहले टी20 (1st T20) मैच में मोहम्‍मद अजहरुद्दीन (Mohammad Azharuddin) को मैच की शुरुआत में घंटी बजाने की इजाजत देने पर मशहूर क्रिकेट गौतम गंभीर ने नाराजगी जताई है. गंभीर ने इसके लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI), प्रशासकों की समिति (CoA) और क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल (CAB) को आड़े हाथ लिया है. ईडन गार्डंस (Eden Gardens) सहित भारत के दूसरे क्रिकेट मैदानों में इंटरनेशनल मैच के पहले घंटी बजाकर (Ringing the bell) मैच की शुरुआत करने का चलन आम है. किसी पूर्व क्रिकेटर को यह सम्‍मान दिया जाता है. गंभीर की नाराजगी इस बात को लेकर है कि मैच फिक्सिंग के आरोप में एक समय प्रतिबंधित किए गए पूर्व क्रिकेटर को यह जिम्‍मेदारी दी गई.

कठुआ में बच्‍ची के साथ गैंगरेप से आहत गौतम गंभीर ने समाज से पूछा यह तीखा सवाल….

गौतम गंभीर ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘भारत ने भले ही ईडन गार्डंस पर हुए मैच में जीत हासिल की हो लेकिन मुझे खेद है कि बीसीसीआई, सीओए और कैब की हार हुई है. ऐसा है कि भ्रष्‍टाचार को किसी भी सूरत में बर्दाश्‍त नहीं करने की नीति रविवार को छुट्टी पर थी! मैं जानता हूं कि ‘उन्‍हें (अजहरुद्दीन को) HCA का चुनाव लड़ने की इजाजत दी गई थी लेकिन यह तो सदमा देना वाला है. घंटी बज रही है उम्‍मीद करता हूं कि शक्तियां सुन रही होंगी. ‘ गौरतलब है कि अजहर के करियर का विवादास्‍पद ढंग से अंत हुआ था, वर्ष 2000 में मैच फिक्सिंग विवाद में उनका नाम सामने आया था और उन पर बीसीसीआई ने आजीवन प्रतिबंध लगाया था. हालांकि इस फैसले को अजहर ने आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट में चुनौती दी थी. वर्ष 2012 में हाईकोर्ट का फैसला अजहर के पक्ष में रहा था. बीसीसीआई ने इस अदालती फैसले को चुनौती नहीं दी थी और बाद में स्‍पष्‍ट किया था कि आईसीसी, बीसीसीआई या इससे संबंधित एसोसिएशंस का कोई पद संभालने पर प्रतिबंध नहीं रहेगा.

मैदान के बाहर भी गौतम गंभीर ने की अफरीदी की बोलती बंद, दिया यह जवा

गौरतलब है कि ईडन गार्डंस मैदान से गौतम गंभीर और भारतीय टीम के पूर्व कप्‍तान मोहम्‍मद अजहरुद्दीन, दोनों का ही करीबी रिश्‍ता रहा है. जहां इंडियन प्रीमियर लीग (IPL)में गंभीर उस कोलकाता नाइटराइडर्स टीम के कप्‍तान रहे जिसका केंद्रबिंदु ईडन गार्डंस होता था, दूसरी ओर यह मैदान अजहरुद्दीन के लिए बेहद लकी रहा है. अजहर ने इसी ईडन गार्डंस पर अपने टेस्‍ट करियर का आगाज किया था और इंग्‍लैंड के खिलाफ अपने पहले ही टेस्‍ट में शतक लगाया था. भारत की ओर से खेलते हुए अजहर अपने पहले तीन टेस्‍ट में शतक जमाने का कारनामा अंदाज दे चुके हैं.  अजहर के नाम से लोकप्रिय मोहम्‍मद अजहरुद्दीन ने भारत के लिए 99 टेस्‍ट और 334 वनडे मैच खेले. टेस्‍ट क्रिकेट में 6215 रन (औसत 45.03, 22 शतक, सर्वोच्‍च स्‍कोर 199) बनाने के अलावा अजहर ने वनडे इंटरनेशनल में 9378 रन (औसत 36.92, सात शतक, सर्वोच्‍च स्‍कोर नाबाद 153 रन) बनाए.