PM मोदी ने कहा- 21 दिन तक 9 गरीब परिवारों की मदद कर करें मां की आराधना ….

0
2
modi

पूरे विश्व में जानलेवा महामारी का रूप धारण कर चुके कोरोना वायरस से जंग का एलान करने के बाद
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी से मुखातिब हैं। उन्होंने कहा कि नवरात्रि के पहले दिन
मां शैलपुत्री की पूजा की जाती है। मां शैलपुत्री स्नेह, करुणा और ममता का स्वरूप हैं। उन्हें प्रकृति की देवी
भी कहा जाता है। आज देश जिस संकट से गुजर रहा है, ऐसे समय में उनके आशीर्वाद की बहुत आवश्यकता
है। मैं कामना करता हूं कि उनकी कृपा से इस संकट से हम उनके आशीर्वाद से लड़ाई लड़ लेंगे।

पीएम नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र के लोगों से कोरोना वायरस से लड़ने के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि
21 दिन में हमे कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई को जीतना है। इसमें काशी वासियों की महत्वपूर्ण भूमिका है।
संकट की इस घड़ी में काशी सबका मार्गदर्शन कर सकती है। काशी का तो अर्थ ही है शिव। इस संकट के
समय में काशी के लोग पूरी दुनिया को सीख दे सकते हैं।  शिव यानी कल्याण। शिव की नगरी में, महाकाल
-महादेव की नगरी में संकट से जुझने का, सबको मार्ग दिखाने का सामर्थय है।

मोदी ने कहा कि काशी का अनुभव शाश्वत, सनातन, समयातीत है और इसलिएआज लॉकडाउन की
परिस्थिति में  काशी देश को संयम, समन्वय, संवेदनशीलतासिखा सकती है। काशी देश को सहयोग, शांति,
सहनशीलता सिखा सकती है। काशी देश को साधना, सेवा, समाधान सिखा सकती है।