Single use Plastic Ban: राजस्थान में सिंगल यूज प्लास्टिक के बहिष्कार का अभियान पकड़ रहा जोर …

0
0
plastic

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर सिंगल यूज प्लास्टिक के बहिष्कार का अभियान राजस्थान में जोर पकड़
रहा है। प्रदेश सरकार के विभाग इसे अपने कार्यालयों में लागू कर रहे हैं। अब तक शासन सचिवालय, पुलिस
अकादमी, सहकारिता विभाग सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग पर रोक लगा चुके हैं। इसके अलावा राजस्थान
हाई कोर्ट में भी इस पर रोक लगाई जा चुकी है। खुद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सिंगल यूज प्लास्टिक का
उपयोग बंद कर दिया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर देश का आह्वान किया था कि प्लास्टिक से होने वाले नुकसान से
बचने के लिए सिंगल यूज प्लास्टिक यानी प्लास्टिक से बने ऐसे उत्पाद जिनका दोबारा इस्तेमाल नहीं किया जा
सकता हो, उसका उपयोग रोकें। इस आह्वान के बाद राजस्थान में भी इसके प्रति जागरूकता आई है और
सिंगल यूज प्लास्टिक के बहिष्कार का अभियान जोर पकड़ रहा है। सरकार सहित विभिन्न विभाग इसमें पहल
कर रहे हैं। आम आदमी भी इसे लेकर जागरूक हो रहा है और सिंगल यूज प्लास्टिक से बने सामान का
उपयोग कम हो रहा है।

राजस्थान में इस बारे में सबसे पहले राजस्थान हाई कोर्ट ने ही पहल की और प्रदेश के सभी न्यायालयों में
सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग पर रोक लगाई। अब न्यायालय परिसर में सिंगल यूज प्लास्टिक से बने
उत्पादों का इस्तेमाल नहीं हो रहा है। राजस्थान के शासन सचिवालय में मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने भी सरकारी
बैठकों में प्लास्टिक की बोतलों के बजाए कांच की बोतलों के इस्तेमाल के निर्देश दिए। इसके बाद दो अक्टूबर
से पुलिस अकादमी और सहकारिता विभाग में भी इस पर रोक लग गई है।