UP: मे कॉन्स्टेबल की हत्या गोली मर कर ऐप्पल के मैनेजर की हुई मौत, परिवार वालो की तरफ से उठ रहे है सवाल

0
20

बताया जा रहा है कि विवेक रात को अपनी सहकर्मी के साथ लौट रहे थे उसी समय गोमतीनगर में पुलिस ने उन्हें गाड़ी रोकने का इशारा किया लेकिन विवेक ने गाड़ी नहीं रोकी.

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की पुलिस पर एक बार फिर सवालिया निशान खड़े हो गए हैं. बीती रात प्रदेश की राजधानी लखनऊ के पॉश इलाके गोमती नगर विस्तार में यूपी पुलिस के एक सिपाही प्रशांत चौधरी ने मल्टीनेशनल कंपनी के मैनेजर की गोली मारकर हत्या कर दी. मरने वाले विवेक तिवारी ऐपल कंपनी में सेल्स मैनेजर था. विवेक को उस वक्त गोली मारी गई जब वे अपनी सहकर्मी को ड्रॉप करने जा रहे थे.

बताया जा रहा है कि विवेक रात को अपनी सहकर्मी के साथ लौट रहे थे, उसी समय गोमतीनगर विस्तार के पास दो पुलिसवालों ने उन्हें गाड़ी रोकने का इशारा किया. लेकिन विवेक ने गाड़ी नहीं रोकी. जिसके बाद विवेक की गाड़ी पर फायरिंग की गई जो सीधे उनके सिर में लगी, जिससे उनकी मौत हो गई. इस मामले में आरोपी कॉन्स्टेबल प्रशांत चौधरी को गिरफ्तार कर लिया गया है.

विवेक के साथ मौजूद सना ने बताया क्या हुआ था

घटना के वक्त विवेक के साथ गाड़ी में मौजूद सहकर्मी सना खान ने कहा,’ मैं अपने सहयोगी के साथ घर जा रही थी. उनका नाम विवेक तिवारी है. गोमती नगर विस्तार के पास हमारी गाड़ी खड़ी थी. तब तक दो पुलिस वाले सामने से आए. हमने उनसे बचकर निकलने की कोशिश की. इसके बाद अचानक गोली चली. हमने वहां से गाड़ी आगे बढ़ाई. आगे हमारी गाड़ी अंडरपास में दीवार से टकरा गई और विवेक के सिर से काफी खून बहने लगा. मैंने सबसे मदद लेने की कोशिश की. थोड़ी देर में पुलिस आई, जिसने हमें अस्पताल पहुंचाया. बाद में सूचना मिली कि विवेक की मौत हो चुकी है.’