• 41 C
    New Delhi
Travel

अगर आपका भी प्लान है हरिद्वार में हैं घूमने का तो जानें कहाँ कहाँ जा सकते हो

( words)

अगर आप अपनी बोरिंग लाइफ से कुछ ब्रेक लेकर कहीं घूमना चाहते हैं, तो हरिद्वार जैसी शांति वाले जगह जरूर जाएं। चलिए आपको इस लेख में बताते हैं कि आप हरिद्वार में रहकर क्या-क्या कर सकते हैं....

हर की पौड़ी

गंगा के पास मौजूद इस पवित्र घाट के नाम का मतलब है भगवान के चरण। हरी की पौड़ी की शांति को देखकर मन और दिल दोनों खुश हो जाते हैं। ऐसा माना जाता है कि गंगा नदी में डुबकी लगाने से सभी पाप धुल जाते हैं, अगर आप भी अपने पापों से मुक्ति पाना चाहते हैं, तो गंगा में डुबकी जरूर लगाएं। गंगा नदी का ठंडा-ठंडा पानी आपकी सभी थकान दूर कर देगा और दिमाग एकदम फ्रेश हो जाएगा। आपकी सुरक्षा के लिए यहां लोहे की जंजीरे और सरिए भी लगाए गए हैं।

हरिद्वार की गंगा आरती

हरिद्वार आएं हैं, तो यहां की गंगा आरती में जरूर शामिल हो। यहां होने वाली आरती की सुंदरता का बखान कर पाना बहुत मुश्किल है। यहां की जलती बातियों और बजती घंटियों के बीच यहां के पंडित एक सुर में गंगा की आरती करते हैं। इस आरती में हजारों सैलानी शामिल होते हैं। यहां हर शाम 7 बजे आरती होती है, लेकिन लोगों की भीड़ 5 बजे से ही जुटना शुरू हो जाती है। शाम 6 बजे से ही लोग यहां हर-हर गंगे और जय गंगा मैया बोलने लगते हैं।

माता मनसा देवी मंदिर

हर की पौड़ी और आरती में शामिल होने के बाद रात को आराम करके अगले दिन आप मनसा देवी मंदिर के दर्शन करने के लिए निकल सकते हैं। मनसा देवी मंदिर और चंडी देवी माता का मंदिर ये दोनों ही आमने सामने हैं। यहां जाने के लिए आप केबल कार की टिकट खरीद सकते हैं। ये दोनों ही मंदिर पहाड़ों की चोटियों पर स्थित है, जहां आप पैदल भी जा सकते हैं। लेकिन आपको एक बार केबल कार की सवारी का मजा जरूर लेना चाहिए, क्योंकि इतनी ऊंचाई से हरिद्वार शहर बेहद खूबसूरत दिखता है। साथ ही आप ऊपर से बहती गंगा नदी के भी दर्शन कर सकते हैं।

हरिद्वार में खाना

घूमने के बाद आप हर की पौड़ी पर मौजूद मोहन जी रेस्टोरेंट पर जा सकते हैं। यहां की स्वादिष्ट पूरी, कचौरी, हलवा और लस्सी का स्वाद आपका तो भर देगा, लेकिन मन नहीं भरेगा। बस यहां बैठने के लिए यहां सही इंतजाम नहीं है, लेकिन फिर भी यहां के खाने का स्वाद जरूर चखें। इस दुकान पर सर्दियों के दौरान लोग कॉफी का भी मजा लेने आते हैं।

हरिद्वार के बाजारों में खरीदारी

हर की पौड़ी के पास मौजूद दुकानों पर आप रंग-बिरंगी बोतले लटकती हुई देखेंगे। यहां से आप एक छोटी सी बोतल से लेकर एक लीटर तक की बोतल में गंगा जल भरकर घर ले जा सकते हैं। यहां कई दुकानों पर रुद्राक्ष, शिव की मूर्तियां, कपड़े और कई तरह के सामान भी देखने को मिल जाएंगे। हरिद्वार की इस मार्किट में घर के लिए साज-सज्जा का सामान भी देखा जा सकता है।

हरिद्वार यात्रा पर और क्या करें?

हरिद्वार में लोकप्रिय तीर्थस्थलों के साथ-साथ कई पेशेवर योग केंद्र भी हैं। यहां की जीवनशैली और संस्कृति के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए आप आश्रम में भी जा सकते हैं। गंगा नदी के बीच में भगवान शिव की 100 फुट ऊंची मूर्ती भी है, जो देखने में काफी विशाल लगती है।

हरिद्वार कैसे पहुंचें

उत्तर भारत के सभी बड़े शहरों से सड़क के जरिए आप हरिद्वार आसानी से पहुंच सकते हैं। हरिद्वार दिल्ली से लगभग 200 किलोमीटर दूर है। दिल्ली से आप अपनी कार से या कैब से या फिर बस, ट्रेन से भी जा सकते हैं।

You Might Also Like...

Sign Up for Our Newsletter

Subscribe now to get notified about Breaking News
from Live4India!