• 41 C
    New Delhi
Travel

अगर आप भी प्लान बना रहे हैं जापान जानें का तो इन चीजों पर गौर जरूर करें

( words)

जापान एक अद्भुत देश है, जो अपनी नई-नई तकनीक और विचारों के साथ आगे बढ़ रहा है। लेकिन, कुछ जापानी आविष्कार इतने अजीबोगरीब हैं कि आपको देखने के बाद कुछ समझ ही नहीं आएगा कि ये इस तरह से क्यों और कैसे है? लगभग हर चीज के लिए वेंडिंग मशीन और तो और ऑक्टोपस फ्लेवर आइसक्रीम कैफे और न जाने किन-किन चीजों से जापान ने दुनिया को आश्चर्य में डाला हुआ है। इस लेख में आज हम आपको जापान की कुछ ऐसी अजीबों गरीब चीजों के बारे में बताने वाले हैं, जिन्हें पढ़ने में आपको भी बेहद मजा आने वाला है।

जापान का कडल कैफे

जापान में कडल कैफे का बहुत बड़ा मार्किट है। जापान की तकनीक को देखकर ही आपको समझ आ जाता होगा कि वहां के लोग दिन रात कितनी मेहनत करते हैं। ऐसे में जरूरी है आराम करने की भी, तो जापान में आपको कई जगहों पर कडल कैफे देखने को मिल जाएंगे। इन कैफे में लोग आराम कर सकते हैं, साथ ही अपने पार्टनर या दोस्तों से कडल थेरेपी लेकर अपनी थकान को दूर कर सकते हैं। ये सुनकर आपको थोड़ा अजीब लग सकता है, लेकिन ये असल में कुछ ही मिनटों में आराम देने वाली चीज है।

ऑक्टोपस के स्वाद वाली आइसक्रीम

आपने बिल्कुल सही सुना! ऑक्टोपस वैसे सी फूड में आता है, जो समुद्री भोजन प्रेमियों को बेहद पसंद आता है, लेकिन इसकी बनी आइसक्रीम सुनने में काफी अजीब है। जिन लोगों को खाने में एक्सपेरिमेंट करना पसंद होता है, वो ऑक्टोपस आइसक्रीम को ट्राई कर सकते हैं।

हर चीज के लिए वेंडिंग मशीन 

जापान में 50 लाख से भी अधिक वेंडिंग मशीन मौजूद हैं, क्यों चौक गए न? आप भी सोच रहे होंगे, ऐसी कौन सी जरूरत के लिए इतनी सारी मशीन जापान में लगाई हुई हैं! जापान वेंडिंग मशीन मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन के अनुसार, एक वेंडिंग मशीन प्रति 23 लोगों की जरूरत को पूरा करती है। जापान की आबादी और यहां की सम्पत्ति की कीमतों की वजह से, जापानी लोगों के पास उपभोक्ता वस्तुओं को स्टोर करने के लिए ज्यादा जगह नहीं है, जिसकी वजह से जापानी कंपनियों ने रिटेल स्टोर खोलने की बजाए, वेंडिंग मशीन लगाई हुई हैं। देश में लगभग हर चीज के लिए एक वेंडिंग मशीन है, चाहे वह स्नैक हो या अंडरगारमेंट्स! अजीब है ना?

काम पर सोना है कमिटमेंट की निशानी

अधिकांश देशों में, काम के दौरान सोना मतलब या तो आपको बॉस से डांट पड़ेगी या फिर कोई स्ट्रिक्ट एक्शन लिया जा सकता है। जापान में, हालांकि, काम के दौरान सोना पूरी तरह से स्वीकार्य है, क्योंकि यहां ऐसा माना जाता है कि काम के दौरान सोना आलस का नहीं कड़ी मेहनत का संकेत है। जापान की कुछ कंपनियां कर्मचारियों को दोपहर 1 बजे से शाम 4 बजे के बीच किसी भी समय 30 मिनट सोने की अनुमति देती हैं, इस प्रथा को इनेमुरी कहा जाता है।

टेढ़े दांत हैं एक फैशन स्टेटमेंट

जापान में, हालांकि, युवतियों में येबा (शाब्दिक रूप से "डबल टूथ") कैप का चलन बढ़ रहा है, जिसमें उनके दांत बीच में से टूटे हुए, उबड़ खाबड़ अगर होंगे तो उन्हें बेहद खूबसूरत माना जाएगा। ऐसी अजीबो गरीब स्टाइल स्टेटमेंट लोगों के बीच बेहद लोकप्रिय बनती जा रही है और ये बेहद कॉस्टली भी है।

बच्चे खुद करते हैं स्कूल की सफाई

कर्मचारियों को तो भूल जाइए, जापान में अपनी कक्षा और स्कूल की सफाई करना उनकी स्कूली शिक्षा का एक हिस्सा है। ओ-सोजी नामक परंपरा के हिस्से के रूप में, पहली कक्षा के छात्र हर दिन अपनी कक्षाओं को साफ करने और अपने क्लासमेट को दोपहर का भोजन सर्व करने और यहां तक कि शौचालय साफ करने के लिए समय निकालते हैं। साल में कुछ बार, वे स्कूल के आस-पड़ोस में भी सफाई करते हैं, और कहा जाता है कि यह अभ्यास छात्रों को दूसरों की मदद करना और अपने परिवेश का सम्मान करना सिखाता है।

You Might Also Like...

Sign Up for Our Newsletter

Subscribe now to get notified about Breaking News
from Live4India!